.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: मातम में डूबे इमामगढ़ गांव में दूसरे दिन नहीं जले चूल्हे


गैस रिसाव से लगी आग से तीन बच्चियों की मौत का मामला

दिन भर जनप्रतिनिधियों, जिले व तहसील के अधिकारियों का आना जाना लगा रहा

आजमगढ़ : अहरौला थाना क्षेत्र के इमामगढ़ गांव में रविवार शाम गैस रिसाव से लगी आग में तीन बच्चियों की मौत के दूसरे दिन पूरे गांव में चूल्हे नहीं जले। बच्चियों की मां माधुरी रो-रोकर बेहोश हो जा रही थीं, तो अन्य महिलाएं उन्हें संभालने में लगी थीं। पूरा गांव दरवाजे पर जमा था। देर रात क्षेत्राधिकारी बूढ़नपुर गोपाल स्वरूप श्रीवास्तव की उपस्थिति में थानाध्यक्ष अहरौला श्रीप्रकाश शुक्ला व चौकी प्रभारी माहुल विजय प्रकाश मौर्य ने तीनों बच्चियों के शव को पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया। लाश को सील करते समय ग्रामीणों के अलावा अधिकारियों की भी आंखें भर आईं। सोमवार को दिन भर तहसील व जिले के आला अधिकारियों का आना-जाना लगा रहा। इमामगढ़ के दिनेश यादव की पत्नी माधुरी रविवार शाम खाना बना रही थीं कि उसी समय गैस सिलेंडर में रिसाव हो गया और उनकी तीन पुत्रियां दीपांजलि (11), सियांसी (6) व श्रेजल (4) जिदा जल कर मर गईं। उपजिलाधिकारी फूलपुर रावेंद्र सिंह के निर्देश पर पहुंचे तहसीलदार फूलपुर पवन कुमार सिंह ने घटनास्थल का जायजा लेने के बाद राजस्व कर्मियों को रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश दिया। सोमवार सुबह खाद्य सुरक्षा अधिकारी विकास सिंह व क्षेत्रीय पूर्ति निरीक्षक संतलाल ने घटनास्थल का निरीक्षण व ग्रामीणों से बात कर रिपोर्ट तहसील प्रशासन को सौंप दिया। इसी के साथ ही साथ क्षेत्रीय लेखपाल रविद्र यादव ने धन, जन की क्षति का जायजा लेकर रिपोर्ट तैयार की। तहसीलदार पवन कुमार सिंह ने बताया कि शासन ने अग्निकांड को भी आपदा की श्रेणी में रखा है। घटना की रिपोर्ट तैयार कराई जा रही।शासनादेश का अध्ययन करने के उपरांत जो भी सहायता राशि अनुमन्य होगी उसे दिलाई जाएगी। रिपोर्ट तैयार करने के लिए क्षेत्रीय पूर्ति निरीक्षक संतलाल, राजस्व निरीक्षक व लेखपाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है। जल्द ही पूरी रिपोर्ट मिल जाएगी। क्षेत्रीय पूर्ति निरीक्षक संतलाल ने बताया कि हादसे के बाद गैस कंपनी की ओर से मुवावजा देने की जानकारी मुझे नहीं है। रही बात सुरक्षा की तो आपूर्ति लेते समय सिलेंडर को चेक करा लेना चाहिए । इमामगढ़ गांव में हृदयविदारक घटना के दूसरे दिन पहुंचे जनप्रतिनिधियों ने भी पीड़ित परिवार के आंसू पोछे। दिनेश यादव के घर पर जन प्रतिनिधियों का आना-जाना लगा रहा। फूलपुर पवई के पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह, पूर्व सांसद रमाकांत यादव, पूर्व विधायक हाफिज इरशाद, विष्णुकांत पांडेय, बलराज सिंह सहित तमाम दलों के नेता शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे और हर संभव आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन दिया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment