.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: प्रधानपति की गिरफ्तारी के विरोध में लगाया जाम


अहरौला के निजामपुर गांव में एक्सप्रेस वे ओवर ब्रिज की 12 टन सरिया चोरी का मामला

आजमगढ़: अहरौला थाना क्षेत्र के निजामपुर गांव में सरिया चोरी के मामले में पुलिस द्वारा प्रधानपति ओमप्रकाश उर्फ फौजी की गिरफ्तारी के बाद रविवार को ग्रामीण उबल पड़े। गांव के पास रास्ता जाम कर दिया, जिससे माहुल-निजामपुर मार्ग पर चार घंटे तक आवागमन बाधित हो गया। जाम की सूचना पर पहुंची अहरौला थाने की पुलिस ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम को समाप्त कराया। निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर निजामपुर में बन रहे ओवरब्रिज में लगाने के लिए वहां गोदाम में रखी 12 टन सरिया की चोरी शुक्रवार रात में हुई थी। शनिवार को प्रोजेक्ट मैनेजर जेपी शर्मा ने कार्रवाई के लिए माहुल चौकी पर शिकायती पत्र दिया था। उसके बाद पुलिस हरकत में आई और सब इंस्पेक्टर जावेद अख्तर व चौकी प्रभारी माहुल विजय प्रकाश मौर्या के नेतृत्व में पुलिस ने एक्सप्रेस-वे से सटे गांव निजामपुर में चार घंटे तक छापेमारी की थी। इसमें प्रधानपति ओमप्रकाश उर्फ फौजी सहित चार लोग गिरफ्तार किए गए थे। पुलिस ने कई घरों से लगभग 25 क्विटल से अधिक सरिया बरामद किया था। प्रधानपति की गिरफ्तारी के विरोध में ग्रामीण प्रधान स्नेहलता के नेतृत्व में रविवार की सुबह 11 बजे निर्माणाधीन ओवरब्रिज के समीप आ गए। वहां काम कर रहे मजदूरों को मारपीट कर भगा दिया और रास्ता जाम कर दिया। ग्रामीण पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रधानपति को रिहा करने की मांग करने लगे।जाम की सूचना पर थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश शुक्ला पुलिस बल के साथ पहुंचे और ग्रामीणों को समझा-बुझाकर किसी तरह से करीब तीन बजे जाम समाप्त कराया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment