.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: उत्पीड़न के मामले आएं तो उनका तत्काल निस्तारण कराएं- रामनरेश पासवान


उ० प्र० अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति आयोग उपाध्यक्ष ने दिए निर्देश

डीएम से कहा, सफाई कर्मचारियों का सही सदुपयोग कराएं

आजमगढ़: उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष रामनरेश पासवान की अध्यक्षता में बुधवार को सर्किट हाउस के सभागार में बैठक हुई। जिसमें अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के व्यक्तियों की समस्याओं के निस्तारण के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। उपाध्यक्ष ने डीएम राजेश कुमार से कहा कि जिले में जो भी उत्पीड़न के मामले प्रकाश में आएं, उसका तत्काल निस्तारण कराएं। उन्होंने कहा कि जिले में जो भी सफाईकर्मी कार्यरत हैं, उनका सही सदुपयोग कराया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जो बिजली के तार सड़कों को पार कर रहे हैं, उनपर जाली लगवाएं। जिससे बिजली से होने वाली दुर्घटनाओं से लोगों को बचाया जा सके। जिला समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि वर्ष 2021-22 में उत्पीड़न के 56 प्रकरण के 102 लाभार्थियों को 83,31,250 रुपये की धनराशि उनके खाते में आरटीजीएस के माध्यम से प्रेषित की गई। वर्तमान समय में उत्पीड़न का कोई प्रकरण लंबित नहीं है। आयोग के सदस्य कमलेश पासी, अनीता सिद्धार्थ, शेषनाथ आचार्य, तीजा राम, मनोज सोनकर, एसपी सुधीर कुमार सिंह, एडीएम प्रशासन नरेंद्र सिंह, एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment