.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: पूर्व प्रमुख प्रमोद यादव को पुलिस ने हिरासत में लिया


पल्हनी ब्लाक पर अंतिम समय में मतदान करने गए थे प्रमोद यादव


आजमगढ़: जिले के चर्चित सीटों में शुमार पल्हनी ब्लाक पर शनिवार को हो रहे मतदान की अंतिम बेला में चुनाव लड़ रही पत्नी के लिए मतदान करने गए पूर्व प्रमुख प्रमोद यादव को वहां मौजूद स्वाट टीम ने उठा लिया। गिरफ्तार किए गए पूर्व प्रमुख को पुलिस शहर कोतवाली में रखी है। हालांकि प्रमोद यादव एक तरफ तो हिरासत में थे दूसरी तरफ कुछ ही देर बाद पल्हनी ब्लॉक प्रमुख पद पर उनकी जीत की खबर भी आ गई। पल्हनी ब्लाक प्रमुख पद के लिए समाजवादी पार्टी के मंत्री रहे एवं सदर विधायक दुर्गा प्रसाद यादव के भतीजे पूर्व प्रमुख प्रमोद यादव इस बार अपना भाग्य आजमा रहे थे। इसी बीच कुछ दिनों पूर्व पुलिस ने क्षेत्र पंचायत सदस्यों को जबरन बंधक बनाने की सूचना पर पूर्व प्रमुख के आवास पर छापेमारी की। पुलिस ने उनके आवास से कुछ लाइसेंसी हथियार बरामद करने के साथ ही वहां मौजूद चार लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने इस मामले में प्रतिबंधित बोर के कारतूसों की बरामदगी के मामले में पूर्व प्रमुख प्रमोद यादव को आरोपित किया था। इसके बाद से प्रमोद यादव फरार चल रहे थे। उन्होंने जनपद न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी डाल रखी थी। साथ ही चुनाव में बाधा देख उन्होंने अपनी पत्नी मीरा यादव को मैदान में उतारा। शनिवार को पल्हनी ब्लाक पर मतदान चल रहा था। मतदान अवधि समाप्त होने के 10 मिनट पूर्व लगभग 3 बजे पूर्व प्रमुख अपना मतदान करने पल्हनी ब्लाक मुख्यालय पर पहुंचे। वहां पहले से मौजूद स्वाट टीम ने पूर्व प्रमुख को अपनी गिरफ्त में ले लिया और उन्हें शहर कोतवाली लाया गया। इस बात की जानकारी जब उनके समर्थकों में हुई तो सभी दंग रह गए। गिरफ्तारी की सूचना पर काफी संख्या में प्रमोद यादव के समर्थक शहर कोतवाली पहुंच गए थे। हालांकि पुलिस प्रमोद की गिरफ्तारी पर अभी कुछ नही कह रही है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment