.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: सरकारी जमीन पर बनाए गए कमरे, दुकाने व अस्पताल का हिस्सा होगा ध्वस्त


बिलरियागंज कस्बे में स्थित मदरसा जामे अतुल फलाह का मामला

राजस्व टीम ने अतिक्रमण की पैमाईश के साथ किया चिह्निकरण, नोटिस जारी

आजमगढ़: बिलरियागंज कस्बे में स्थित मदरसा जामे अतुल फलाह द्वारा काफी सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर दुकान, कक्ष व अस्पताल का निर्माण कराया गया है। जिसकी शिकायत पर तहसील प्रशासन की टीम ने मौके पर पहुंच कर पैमाईश की। टीम के अनुसार लगभग 10 करोड़ की बेशकीमती सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर भवन का निर्माण करा लिया गया है। तहसीलदार बृजेंद्र उपाध्याय के अनुसार मदरसा जामे अतुल फलाह द्वारा सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायत हुई थी। शिकायत पर मंगलवार को टीम जब मौके पर जांच करने पहुंची तो मदरसा के 70 कमरे, 80 दुकानें व अस्पताल का कुछ हिस्सा अतिक्रमण की जद में मिला। सरकारी जमीन पर 80 दुकानें बनवा कर फलाह दुकानदारों से मोटी रकम बतौर किराया वसूल रहा है। अतिक्रमण की गई जमीन की अनुमानित कीमत लगभग 10 करोड़ आंकी गई है। टीम ने अतिक्रमण की पैमाईश करने के साथ ही चिह्निकरण की कार्रवाई पूरी की। अतिक्रमण की गई जमीन में कब्रिस्तान, बंजर, नवीन परती की जमीनें शामिल हैं, जिसका गाटा संख्या 364, 365, 369, 370, 381, 382, 384, 403 व 404 है। भूमि का रकबा लगभग डेढ़ हेक्टेयर है। उन्होंने बताया कि चिह्नांकन के साथ ही अवैध रूप से कब्जा करने वालों को नोटिस भी जारी कर दी गई है। अवैध कब्जेदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जुर्माना वसूल किया जाएगा और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई भी की जाएगी। राजस्व विभाग की टीम द्वारा मापी की कार्रवाई से हड़कंप मच गया है। टीम में राजनाथ कानूनगो, प्रकाश श्रीवास्तव, आशीष श्रीवास्तव, सुग्रीव तिवारी, राजकुमार सिंह, त्रिभुवन यादव, शैलेन्द्र, अनीता लेखपाल व बिलरियागंज थाने की फ़ोर्स मौजूद थी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment