.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बिना जीत के मूल प्रमाण पत्र के कोई भी सदस्य वोट नहीं दे पाएगा


आयोग ने मतदाताओं के लिए मतदाता पहचान पत्र के 15 विकल्प जारी किए
 

सभी जिला पंचायत सदस्यों को मतदान को निर्वाचन का मूल प्रमाण पत्र लाना अनिवार्य

आजमगढ़: जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव को सकुशल संपन्न कराने की तैयारियों में जुटे आयोग ने मतदान का विकल्प जारी कर दिया है। मतदाताओं के लिए मतदाता पहचान पत्र के 15 विकल्प जारी किए हैं। जिसमें से कोई एक पहचान पत्र वोटर के पास होना अनिवार्य है। इसके साथ ही मतदान के समय सभी जिला पंचायत सदस्यों को मतदान के लिए अपने साथ निर्वाचित होने का मूल प्रमाण पत्र लाना अनिवार्य होगा। मतदान व मतगणना परिसर में मोबाइल लेकर जाना पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगा। बिना प्रमाण पत्र के कोई वोट नहीं दे पाएगा। बता दें कि जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए तीन जुलाई को मतदान होना है। चुनाव संबंधी सारी तैयारी पूरी कर ली गयी है। जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि मतदाताओं के पहचान के लिए आयोग ने 15 विकल्प दिये हैं। जिला पंचायत सदस्य मतदाता पहचान पत्र, आधारकार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविग लाइसेंस, आयकर पहचान पत्र(पैन कार्ड), राज्य सरकार व केंद्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्रों के उपक्रमों, स्थानीय निकायों या पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा उनके कर्मचारियों को जारी किए जाने वाले फोटोयुक्त पहचान पत्र, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों व पोस्टआफिस से जारी फोटोयुक्त पासबुक, फोटोयुक्त संपत्ति संबंधी मूल अभिलेख (पट्टा, रजिस्ट्री, डीड आदि), फोटोयुक्त नई किसान बही, फोटोयुक्त पेंशन अभिलेख(भूतपूर्व सैनिक पेंशन बुक, पेंशन भुगतान आदेश, वृद्धावस्था पेंशन आदि), फोटोयुक्त स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पहचान पत्र, फोटोयुक्त शस्त्र लाइसेंस, फोटोयुक्त शारीरिक रूप से अशक्त होने का प्रमाण पत्र, मनरेगा का फोटोयुक्त जाबकार्ड और श्रम मंत्रालय योजना के अंतर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड में से कोई एक पहचान पत्र के तौर पर उपयोग कर सकेंगे। उन्होने बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए तीन जुलाई को नेहरू हाल में पूर्वांह्न 11 बजे से तीन बजेे तक मतदान होगा। मतदाताओं की पहचान के लिए अधिकारियों की नियुक्ति सुनिश्चित कर दी गई है। इसमें परियोजना निदेशक जिला ग्राम्य विकास अभिकरण अभिमन्यु कुमार सिंह व अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत एके सिंह को जिम्मेदारी दी गई है। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में मतदान एवं मतगणना को स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण कराने के लिए राम निवास विशेष सचिव चिकित्सा शिक्षा विभाग को प्रेक्षक तैनात किया गया है। मतदान एवं मतगणना के लिए प्रेक्षक दो जुलाई को पूर्वाह्न जिला मुख्यालय पहुंचेंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment