.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: जिलाधिकारी ने किया बाढ़ की तैयारियों की समीक्षा


बाढ़ चौकियां स्थापित कर वहां कर्मचारियों की 03 पालियों में ड्यूटी लगाई जाए- डीएम

आजमगढ़ 25 मई-- जिलाधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट भवन के सभागार में बाढ़ से निपटने की तैयारियों की समीक्षा बैठक आयोजित की गईl बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी, समस्त एसडीएम, तहसीलदार तथा सिंचाई एवं पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने भाग लिया।
जिलाधिकारी राजेश कुमार ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि बाढ़ आने से पूर्व बाढ़ से निपटने की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाए। उन्होंने कहा कि बारिश से बंधों पर हुए कटाव को मिट्टी डालकर चुस्त दुरुस्त कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि बाढ़ से प्रभावित होने वाले गांवों में प्रकाश की उचित व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए बंधों पर भी सोलर लाइट की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि बल्ली, पटरा, बांस आदि आवश्यक सामानों का स्टॉक अभी से कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि जो बाढ़ चौकियां स्थापित की जाए, वहां पर कर्मचारियों की 03 पालियों में ड्यूटी लगाई जाए तथा वहां पर उपस्थिति रजिस्टर अवश्य रखा जाए।
जिलाधिकारी ने कहा कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों के सभी सीएचसी/पीएचसी और आवश्यक मात्रा में दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बाढ़ आने पर होने वाली बीमारियां बुखार, डायरिया, डेंगू, कालाजार तथा चिकनगुनिया जैसी बीमारियों से निपटने के लिए दवाओं का पर्याप्त स्टाक रखा जाएl उन्होंने कहा कि समय से बच्चों का टीकाकरण भी करा दिया जाएl उन्होंने कहा कि निगरानी समितियों के माध्यम से बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में फागिंग एवं दवाओं का स्प्रेडिंग किया जाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में स्थापित हैंडपंपों के चबूतरे ऊंचा किया जाए तथा शौचालय एवं विद्युत की व्यवस्था अभी से सुनिश्चित कर लेंl उन्होंने कहा कि झोपडी/मड़ईया वाले स्थानों पर विशेष रूप से प्रकाश की व्यवस्था सुनिश्चित करेंl उन्होंने कहा कि बंधे के ऊपर बने शौचालयों को भी समय रहते ठीक कर लिए जायेl उन्होंने कहा कि बंधों के हेवी रेन कट्स पर मिट्टी पिचिंग कार्य को बारिश से पूर्व पूर्ण करना सुनिश्चित करेंl उन्होंने कहा कि जहां आवश्यक हो मनरेगा से भी कार्य किया जाना सुनिश्चित करे। जिलाधिकारी ने कहा कि बाढ़ से संभावित क्षेत्रों में जानवरों के लिए भूसे एवं चारे का भंडारण किया जाए तथा जानवरों का टीकाकरण भी समय से कराना सुनिश्चित करेंl उन्होंने कहा कि बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में नाव के संचालन का रूट एवं टाइम टेबल बनाकर जनता को अवगत कराएं, ताकि उन्हें आने-जाने में परेशानी न उठानी पड़े। उन्होंने कहा कि बाढ़ में लंच पैकेट बांटने के साथ लाई, चना, नमक, गुड़ एवं बिस्कुट के पैकेट का भी भंडारण किया जाना सुनिश्चित करेंl उन्होंने कहा कि सामानों की आपूर्ति हेतु आवश्यक टेंडर प्रक्रिया को अतिशीघ्र पूर्ण कर लिया जाएl
जिलाधिकारी ने कहा कि बंधे से आबादी तक जाने वाले संपर्क मार्गों की 10 जून तक मरम्मत एवं पिचिंग के कार्य पूर्ण कर लिया जाएl उन्होंने कहा कि चौकी एवं कंट्रोल रूम की व्यवस्था को भी चेक कर लिया जाएl उन्होंने कहा कि एनडीआरएफ की टीम को बुलाकर आवश्यकतानुसार ट्रेनिंग भी दिलाना सुनिश्चित करेंl उन्होंने कहा कि बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं पर विशेष ध्यान दिया जाएl जिलाधिकारी ने कहा कि तत्काल कम्युनिकेशन प्लान तैयार कर ले, ताकि जरूरत पड़ने पर आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकेl
जिलाधिकारी ने सभी संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि तत्काल विभागीय कार्य योजना को बनाकर प्रस्तुत करें, ताकि समय रहते आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के गाइडलाइन का पालन कराना सुनिश्चित करें।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment