.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: मेडिकल कॉलेज के सहायक चिकित्साधीक्षक समेत 15 कोरोना पॉजिटिव


मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या और इलाज प्रशासन के लिए चुनौती बन गई है

आजमगढ़ : राजकीय मेडिकल कॉलेज एवं सुपर फैसिलिटी हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमित मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या और इलाज प्रशासन के लिए चुनौती बन गई है। यहां के सहायक चिकित्साधीक्षक व द्वितीय नोडल अधिकारी, डॉक्टरों व स्वास्थ्य कर्मियों सहित कुल 15 लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं।
विगत वर्ष कोरोना महामारी के दौरान कई महीने में संक्रमित मरीजों की संख्या 200 के आसपास पहुंची थी। अबकी तेज रफ्तार होने से 200 का आकंड़ा 10 दिन में ही छू गया है। हालांकि प्रधानाचार्य डॉ. आरपी शर्मा का कहना है कि स्थिति अभी पूरी तरह नियंत्रण में है, लेकिन यदि संक्रमित मरीजों की संख्या ऐसे ही बढ़ती रही तो मेडिकल कॉलेज प्रशासन के लिए इलाज करना काफी मुश्किल हो जाएगा। हालात से निपटने के सवाल पर प्रधानाचार्य ने बताया कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए वह डॉक्टरों के साथ मंथन कर रहे हैं। इस बाबत जिला प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है। विषम परिस्थितियों में भी हमने हिम्मत नहीं हारी है। नोडल अधिकारी डॉ. दीपक पांडेय के नेतृत्व में कोविड मरीजों का इलाज किया जा रहा है। यह अलग बात है कि बाकी स्टाफ में भी संक्रमित होने का डर बना हुआ है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment