.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: सिर मुड़वा कर मार्टीनगंज के अधिवक्ताओं ने आंदोलन को धार दी


तहसील बार के अध्यक्ष ने अपना सिर मुड़वाकर संकेत दिया कि अधिवक्ता अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए कुछ भी कर सकते हैं


मार्टीनगंज: आजमगढ़ : विभिन्न मांगों को लेकर कई महीने आंदोलित तहसील के अधिवक्ताओं ने मंगलवार को विरोध का नायाब तरीका अपनाया। एक अधिवक्ता ने सिर मुड़वाकर आंदोलन को धार दी तो वहीं सभी अधिवक्ताओं ने धरना दिया। अधिवक्ता कई महीनों से संपूर्ण समाधान दिवस पर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन इसका कोई असर नहीं दिख रहा है। इस क्रम में मंगलवार को तहसील बार के अध्यक्ष रामअजोर यादव ने अपना सिर मुड़वाकर शासन-प्रशासन को संकेत दिया कि अधिवक्ता अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। अधिवक्ताओं का कहना था कि लगभग पांच वर्ष पूर्व स्थापित तहसील में तमाम अधिकारीगण नियुक्त और कार्यरत हैं परंतु उपनिबंधन कार्यालय न होने के कारण दूरदराज के लोगों को अपनी जरूरत पर फूलपुर जाना पड़ता है। निर्माणाधीन तहसील भवन कई वर्षों से अधर में लटका है। उसे पूरा कराने की दिशा में कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो रही है। तहसील में जेनरेटर की व्यवस्था नहीं है जिससे अधिवक्ताओं को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अधिवक्ताओं के साथ स्टांप वेंडरों ने भी धरना दिया। धरने को संबोधित करते हुए अध्यक्ष रामअजोर यादव ने कहा कि सभी मांगें पूरी होने तक आंदोलन चलता रहेगा। अंत में समाधान दिवस पर आए एडीएम वित्त एवं राजस्व गुरु प्रसाद गुप्ता को ज्ञापन दिया गया। उन्होंने मांगों को जल्द से जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। धरने की अध्यक्षता सुरेंद्र मिश्रा व संचालन मंत्री उमेश सिंह ने किया। राजीव सिंह, बद्रिका यादव, श्रीपत यादव, मानता यादव, गुलाब गौतम, धीरज सिंह, सतीश यादव, अशोक यादव, राजेश सिंह, विमलेश, सुरेंद्र राय, गुलाब भारती आदि अधिवक्ता और स्टांप वेंडर उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment