.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

राज्य स्तरीय पेंचक सिलाट चैंपियनशिप में आज़मगढ़ की टीम ने मारी बाजी



मऊ की टीम द्वितीय व लखनऊ की टीम तृतीय स्थान पर रही

मार्शल आर्ट्स खेलों के प्रशिक्षण से आत्मविश्वास बढ़ता है और यह आत्मरक्षार्थ भी आवश्यक है- डीआईजी

आज़मगढ़: पेंचक सिलाट एसोसिएशन ऑफ आज़मगढ़ के द्वारा तृतीय त्रिदिवसीय राज्य स्तरीय पेंचक सिलाट चैंपियनशिप का आयोजन जीडी ग्लोबल स्कूल आज़मगढ़ में किया गया जिसमें उत्तर प्रदेश पुलिस टीम सहित लखनऊ,कानपुर, आगरा ,मथुरा, बुलंद शहर, जौनपुर, प्रतापगढ़, शामली, वाराणसी, चन्दौली, सुल्तानपुर, देवरिया, आज़मगढ़, मऊ सहित 24 जनपदों के 350 खिलाड़ी इस चैंपियनशिप में प्रतिभाग किए थे।
चैंपियनशिप के समापन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पुलिस उपमहानिरीक्षक आज़मगढ़ परिक्षेत्र आज़मगढ़ श्री सुभाष चंद्र दूबे व भाजपा जिलाध्यक्ष ऋषिकान्त राय , जिला ओलम्पिक संघ के सचिव अजेंद्र राय व डॉ नितिन सिंह ने विजेताओं को मेडल पहनाकर किया। अतिथियों का सम्मान जीडी ग्लोबल स्कूल के प्रबंधक श्री गौरव अग्रवाल, निदेशिका श्रीमती स्वाति अग्रवाल, पेंचक सिलाट एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष जसपाल सिंह, पेंचक सिलाट आज़मगढ़ के अध्यक्ष सहजानन्द राय एवं विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री विधान तिवारी ने पुष्प गुच्छ से किया। 
मुख्य अतिथि पुलिस महानिरीक्षक आज़मगढ़ श्री सुभाष चंद्र दूबे ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आज के दौर में बालिकाओं की आत्मरक्षा के लिए पेंचक सिलाट जैसे खेलों का प्रशिक्षण नितांत आवश्यक है। मार्शल आर्ट्स के इन खेलों के प्रशिक्षण से न केवल आत्मविश्वास बढ़ता है अपितु आत्मरक्षार्थ भी यह आवश्यक है तथा एकल खेलों में आगे बढ़ने की संभावनाएं ज्यादा होती हैं, आज़मगढ़ में इसके आयोजन से पूर्वांचल के खिलाड़ियों का काफी उत्साहवर्धन होगा। खेलो के माध्यम से एक स्वस्थ नागरिक का निर्माण होता है, यह बड़े ही गर्व का विषय है कि आज़मगढ़ राज्यस्तरीय चैंपियनशिप की मेजबानी कर रहा है। 
पेंचक सिलाट स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ उत्तर प्रदेश के महासचिव सूरज प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि इस चैंपियनशिप में प्रदेश के 24 जिलों से 27 टीम ने प्रतिभाग किया था। जिसमें आज़मगढ़ की टीम के खिलाड़ियों ने विभिन्न भार वर्गों में 15 स्वर्ण पदक जीतकर प्रथम स्थान प्राप्त किया, मऊ जनपद के खिलाड़ियों ने 12 स्वर्ण पदक जीतकर दूसरे स्थान पर व लखनऊ टीम के खिलाड़ियों ने 9 स्वर्ण पदक जीतकर तीसरे स्थान पर कब्जा जमाया,वाराणसी की टीम 8 स्वर्ण पदक जीतकर चौथे स्थान पर रही। 
विजेताओं को मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों ने विजेता ट्रॉफी व मेडल पहनाकर पुरस्कृत किया।
विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री विधान तिवारी ने कहा कि चैंपियनशिप के इस प्रकार के आयोजन से प्रतिभागियों में एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के साथ साथ सौहार्दपूर्ण सहभागिता का भी विकास होता है। यह प्रतियोगिता आज़मगढ़ सहित पूरे पूर्वांचल के खिलाड़ियों को लाभान्वित करेगा।व राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग करने के लिए उत्तर प्रदेश की टीम का चयन भी यही से किया गया है।
इस अवसर पर पेंचक सिलाट एसोसिएशन के उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष जसपाल सिंह, डॉ पंकज मोहन सोनकर, एसोसिएशन के उपाध्यक्ष पारितोष राय, विद्याधर श्रीवास्तव, जीडी ग्लोबल की निदेशिका श्रीमती स्वाति अग्रवाल, उपप्रधानाचार्य मधु पाठक, हेड मिस्ट्रेस सपना सिंह, अनिल राय, अंतरराष्ट्रीय रेफरी सार्जन प्रसाद, विनय विश्वकर्मा, ज्ञानेन्द्र चौहान,शिवम तिवारी, रामजीत ऋषि ,दिनेश चौहान, शुभम तिवारी, विनय प्रजापति, अभिषेक यादव , संदीप भारद्वाज सहित विभिन्न जनपदों के आये हुए रेफरी, टीम के प्रशिक्षक व सैकड़ो खिलाड़ी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment