.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: माफिया कुंटू सिंह पर प्रशासन ने फिर कसा शिकंजा, पत्नी पर एफआईआर


पॉलिटेक्निक कालेज की ट्रस्टी पत्नी वंदना सिंह एवम सचिव पर एफआईआर 

फ़र्ज़ी व कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर मान्यता लेने का मामला

आज़मगढ़: यूपी के टॉप टेन माफिया कुंटू सिंह पर एक के बाद एक प्रशासन अपना शिकंजा कसता जा रहा है। करोड़ों की सम्पतियों को कुर्क करने के बाद अब इस बार उनके रूद्र प्रताप पॉलिटेक्निक कॉलेज के अभिलेखों को लेकर उनकी पत्नी वंदना सिंह के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराया है। इससे पहले पॉलिटेक्निक को ध्वस्त कराने की नोटिस विद्यालय पर चस्पा की गई थी। साथ ही गैंगस्टर एक्ट के तहत जिला प्रशासन के आदेश पर 24 सितंबर वर्ष 2020 को विद्यालय सीज किया गया था। इसी क्रम में गुरुवार को सावित्री बाई फूले राजकीय पालिटेक्निक प्रधानाचार्य ने जीयनपुर कोतवाली में प्रार्थना पत्र दिया। प्रार्थना पत्र के अनुसार जिलाधिकारी के पत्र सं0 1339(1) न्याय सहायक 12 मार्च के द्वारा अवगत कराया गया कि निजी पालीटेक्निक संस्थान रूद्र प्रताप पालीटेक्निक, देऊरपुर कमालपुर, तहसील सगड़ी के दस्तावेज प्रशासन द्वारा गहन जाँचोपरान्त फर्जी एवं कूटरचित पाये गये थे। इस सम्बंध में जिलाधिकारी ने सावित्री बाई फुले राजकीय पालीटेक्निक को निर्देश दिया था कि इस पालीटेक्निक के सम्बंध में विद्यावती देवी, शिक्षण- प्रशिक्षण एवं सेवा संस्थान के ट्रस्टी / अध्यक्ष वंदना सिंह पत्नी ध्रुव सिंह उर्फ कुण्टू सिंह एवं सचिव शिव प्रकाश के विरूद्ध नियमानुसार प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित किया जाए। इस आदेश के अनुपालन में जीयनपुर कोतवाली में गुरुवार को धारा 419/420/467/468/471 IPC पंजीकृत किया गया। एसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि फ़र्ज़ी दस्तावेजो पर मान्यता ली गई है प्रबंधन के साथ ही ऐसा करने में सहयोग करने वालों पर भी कार्यवाही की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment