.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: यूपीपीएससी में 15वीं रैंक ला नरेंद्र यादव बने सहायक निदेशक


दूध बेच कर पिता ने बेटे को पढ़ाया, अब सहायक निदेशक विद्युत बनने पर हर्षित हुए

पिता के परिश्रम को देखकर मैने बड़े ओहदे का संकल्प लिया था-नरेंद्र

आजमगढ़: दूध बेचकर अपने बेटे को पढ़ाने-लिखाने वाले पिता की आंखे उस समय खिल उठी जब उन्हें पता चला कि यूपीपीएससी की परीक्षा में 15वां रैंक प्राप्त कर उनका लाल अब बतौर सहायक निदेशक बिजली विभाग में अपनी सेवा देगा। इस उपलब्धि से पूरे क्षेत्र से बधाईयां का तांता लगा हुआ है, हर कोई बधाई देने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। चंडेश्वर के परमेश्वरपुर गांव निवासी नरेन्द्र यादव पुत्र लक्ष्मी यादव की प्रारंभिक शिक्षा से लगायत हाईस्कूल तक करनपुर स्थित बालवर ग्रामीण इंटर कालेज में प्राप्त किया। इसके बाद इंटरमीडिएट की शिक्षा चिल्ड्रेन कालेज में पूरी किया। अपने मेधावी क्षमता के बल पर नरेन्द्र यादव ने बीटेक की शिक्षा एनआईटी राउरकेला उड़ीसा में ग्रहण किया। जिसके बाद प्रतियोगी परीक्षा में बैठने की सिलसिला शुरू हुआ तो उनका चयन यूपीपीसीएल में एसडीओ के पद पर चयन हुआ अभी वह गोंडा में ट्रेनिंग प्राप्त कर रहे थे कि यूपीपीएससी की परीक्षा में नरेन्द्र यादव ने 15वां रैंक प्राप्त कर इतिहास रच दिया। नरेन्द्र यादव अब विद्युत विभाग में सहायक निदेशक के रूप में अपनी सेवा देंगे। नरेन्द्र यादव ने इसका पूरा श्रेय अपने पिता और माता और गुरूजनों को देते हुए कहा कि मेरे पिता ने जिस तरह हमें पढ़ाया लिखाया है उनके परिश्रम को देखकर मैने बड़े ओहदे का संकल्प लिया था। किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए शत-प्रतिशत परिश्रम किया जाये तो वह लक्ष्य निश्चित रूप से प्राप्त होगा।
बधाई देने वालों में सुधार यादव, रामसहाय यादव, अवधनाथ, मनोज, विनोद, अनिल, विक्रम, दीपक यादव, विरेन्द्र यादव, दयाराम यादव आदि शामिल रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment