.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ मेडिकल कालेज में कोरोना जांच का आंकड़ा दो लाख के पार हुआ


महामारी से जंग में प्रदेश में मिला दूसरा स्थान,प्रधानाचार्य ने दी स्टाफ को बधाई
 

पहले भी एक लाख और 50 हजार के टेस्ट में मिला था पहला स्थान

चक्रपानपुर (आजमगढ़) : राजकीय मेडिकल कालेज व सुपर फैसिलिटी अस्पताल के माइक्रोबायोलाजी विभाग में कोरोना संक्रमण की जांच के लिए लगी आरटी पीसीआर मशीन (बायोसेफ्टी लैब) ने सोमवार को दो लाख टेस्ट पूरा कर प्रदेश में दूसरा स्थान आज़मगढ़ मेडिकल कालेज में कोरोना जांच का आंकड़ा दो लाख के पार हुआ किया है। इसके पूर्व पहले 50 हजार तथा फिर एक लाख टेस्ट पूरा कर पूरे प्रदेश में पहला स्थान हासिल करने का गौरव प्राप्त हो चुका है। इस उपलब्धि पर प्रधानाचार्य आरपी शर्मा ने सभी स्टाफ को बधाई दी है।
कोरोना की जांच के लिए मंडल के तीनों जिलों को शामिल किया गया था। अब जबकि शासन के निर्देश पर मंडल के आजमगढ़ और मऊ जिले के लोगों की ही कोविड-19 जांच होनी है। इसके बावजूद मेडिकल कालेज ने दूसरा स्थान हासिल कर इतिहास रच दिया है। पहले स्थान पर बांदा है। बता दें कि 31 अगस्त 2020 को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 की जांच के लिए प्रदेश के 10 मेडिकल कालेज में एक साथ वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से आरटी पीसीआर मशीन का लोकार्पण किया था। प्रधानाचार्य आरपी शर्मा ने कहा कि यह उपलब्धि मेडिकल कालेज के संयुक्त प्रयास का परिणाम है। इस उपलब्धि को अनवरत रखने की जरूरत है। इसके लिए उन्होंने माइक्रोबायोलाजी विभाग की विभागाध्यक्ष डा प्रतीक्षा श्रीवास्तव, लैब इंचार्ज डा. आतोष त्रिपाठी, उप प्रधानाचार्य राजेश कुमार, चिकित्सा अधीक्षक डा. एमके गुप्ता, नोडल अधिकारी डा. दीपक पांडेय, सहायक चिकित्सा अधीक्षक डा. नियाज हसन के साथ माइक्रोबायोलाजी विभाग के टेक्नीशियन सहित पूरी टीम को बधाई दी है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment