.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अभ्युदय योजना के तहत 15 से शुरू होंगी निःशुल्क कोचिंग क्लासेज़


योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र तथा निर्बल आय के मेधावी, प्रतिभाशाली व लगनशील बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उचित अवसर प्रदान करना है: मण्डलायुक्त

आज़मगढ़ 13 फरवरी -- मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने कहा है कि मुख्यमन्त्री अभ्युदय योजना प्रदेश सरकार की अत्यन्त महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के अन्तर्गत मण्डल मुख्यालय पर 15 फरवरी से मुख्य प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे-संघ लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, जेईई, नीट, एनडीए की तैयारियों के लिए आज़मगढ़ में डीएवीपीजी कालेज, शिब्ली नेशनल पीजी कालेज, डीएवी इण्टर कालेज, शिब्ली नेशनल इण्टर में निःशुल्क कोचिंग क्लासेज चलाई जायेंगी। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने शनिवार को अपने कार्यालय के सभाकक्ष में मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता के दौरान कहा कि कि योजना का मुख्य उद्देश्य सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों एवं निर्बल आय के परिवारों के मेधावी, प्रतिभाशाली, उत्साही व होनहार बच्चों को परीक्षा पूर्व तैयारियों के लिए निःशुल्क उच्च स्तरीय मार्गदर्शन एवं प्रशिक्षण देकर उचित अवसर प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में आज़मगढ़ में सिविल सेवा (आईएएस, पीसीएस), नीट, जेईई एवं एनडीए की कोचिंग क्लासेज़ चलाई जायेंगी, इसके लिए अधिकारियों, प्रवक्ता, प्रोफसर्स और निजी क्षेत्र के विशेषज्ञों की सेवायें ली जायेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि आवश्यकतानुसार अन्य विशेषज्ञों की सेवायें भी ली जायेंगी। मण्डलायुक्त ने बताया कि निःशुल्क प्रशिक्षण केन्द्र को सुचारू रूप से तथा शासन की मंशा के अनुरूप संचालित किये जाने हेतु सारी व्यवस्थायें सुदृढ़ करने के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है जिसमें ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उप जिलाधिकारी सदर, उप निदेशक समाज कल्याण तथा अपर सांख्यिकी अधिकारी को शामिल किया गया है।
मण्डलायुक्त श्री पन्त ने मीडिया प्रतिनिधियों को बताया कि इन कोचिंग क्लासेज़ में आनलाइन रजिस्ट्रेशन हेतु उप्र शासन एवं प्रबन्ध एकादमी (उपाम) द्वारा वेबसाइट लांच कर दी गयी है। उन्होंने कहा यद्यपि कि विद्यालायों में भी आफलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी गयी है, परन्तु आनलाइन रजिस्ट्रेशन सबसे उपयुक्त होगा। श्री पन्त ने बताया कि आजमगढ़ में निःशुल्क कोचिंग हेतु चयनित चारों शिक्षण संस्थाओं में स्मार्ट क्लासेज़ चलाकर प्रथम चरण में 400 बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों का प्रशिक्षण दिया जायेगा तथा नतीजों के आधार पर आगे और क्लासेज़ बढ़ाई जायेंगी। उन्होंने यह भी बताया कि आॅनलाइन अध्ययन को दृष्टिगत रखते हुए इन क्लासेज़ के लिए सारे स्टडी मैटेरियल्स यूट्यूब पर भी उपलब्ध होंगे। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने कहा कि शासन की इस महत्वाकांक्षी योजना से आज़मगढ़ के गरीब, प्रतिभाशाली, लगनशील, मेधावी, उत्साही छात्र/छात्रायें निश्चित रूप से लाभान्वित होंगे।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी सदर गौरव कुमार, उप निदेशक समाज कल्याण सुरेशचन्द, अपर सांख्यिकी अधिकारी सुनील कुमार प्रजापति भी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment