.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ से भी जुड़ रहे लखनऊ में हुई अजीत सिंह की हत्या के तार


पूर्व विधायक सीपू सिंह की हत्या के केस में अहम गवाह थे अजीत सिंह

पुलिस वारदात से जुड़ी सभी वजहों पर पैनी नजरें बनाए हुए है- सुभाष चंद्र दुबे, डीआईजी

आजमगढ़: लखनऊ में बुधवार की रात मारे गए मऊ निवासी अजीत सिंह की हत्या के तार आजमगढ़ से भी जुड़ रहे हैं। मृतक अजीत सिंह सगड़ी के पूर्व विधायक रहे सीपू सिंह की हत्या में अहम गवाह था। उस हाईप्रोफाइल केस में चार दिन बाद ही गवाही होनी थी। फिलहाल उस मुकदमें में पूर्व विधायक के भाई टीपू सिंह की गवाही चल रही है। पूर्व विधायक हत्याकांड में नियमित सुनवाई होने के कारण केस अपनी मंजिल की ओर बढ़ रहा था। ऐसे में मर्डर की भनक लगते ही आजमगढ़ की पुलिस भी पूरे मामले में पैनी नजर रख रही है। दिवंगत पूर्व विधायक सीपू सिंह की पत्नी बंदना वर्तमान में सगड़ी की विधायक हैं। 
वर्ष 2013 में 19 जुलाई को सगड़ी के पूर्व विधायक सीपू सिंह की उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हाईप्रोफाइल मामले का मुख्य आरोपित ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह फिलाहल सलाखों के पीछे है। कुंटू सिंह को यूपी पुलिस ने सूबे की टॉप टेन माफियाओं की सूची में शामिल किया है। ऐसे में अजीत की हत्या की भनक लगते ही पूर्व दिवंगत विधायक सीपू सिंह के परिवार के लोग सहम उठे। उनके भाई टीपू सिंह ने बताया कि उनकी गवाही केस में चल रही है। इसके बाद अजीत ही मामले में मुख्य गवाह था। ऐसे में मर्डर को लेकर कई तरह की आशंकाएं प्रबल हो गईं हैं। टीपू सिंह अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर परेशान है। दिवंगत पूर्व विधायक की पत्नी बंदना सिंह जो कि वर्तमान में सगड़ी विधानसभा क्षेत्र से बसपा की विधायक हैं, ने मुख्यमंत्री से सुरक्षा को लेकर मुलाकात करने की ठानी है। डीआइजी सुभाष चंद्र दुबे ने बताया कि अजीत सिंह पूर्व विधायक की हत्या में गवाह था। ऐसे में हम वारदात से जुड़े सभी वजहों पर पैनी नजरें बनाए हुए हैं। लखनऊ पुलिस से भी हम लगातार संपर्क बनाए हुए हूं। उन सभी पहलुओं पर गौर फरमाया जा रहा, जिससे वारदात से जुड़ा एक भी क्लू हाथ आ जाए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment