.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अधिकृत एवं अनाधिकृत इंजीनियरों के टकराव की भेंट चढ़ी एडीए की बैठक


अनाधिकृत रूप से पहुंचे इंजीनियरों के चलते अधिकृत इंजीनियरों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया

आजमगढ़: कलेक्ट्रेट सभागार में गुुरुवार को आयोजित आजमगढ़ विकास प्राधिकरण(एडीए) 16वीं बोर्ड की बैठक अधिकृत एवं अनाधिकृत ग्रेजुएट इंजीनियरों को लेकर हुई कहासुनी की भेंट चढ़ गई। अनाधिकृत रूप से पहुंचे चार ग्रेजुएट इंजीनियरों ने जब एडीए सचिव बैजनाथ की बात नहीं मानी तो अधिकृत इंजीनियरों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया। कहा कि इस प्रकरण से मुख्यमंत्री के अलावा मंडलायुक्त और जिलाधिकारी को अवगत कराएंगे। जिलाधिकारी/ उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण राजेश कुमार की अध्यक्षता में बैठक आहूत की गई थी, लेकिन व्यस्तता के कारण डीएम शामिल नहीं हो सके। इसके बाद एडीए सचिव की अध्यक्षता में शुरू हुई बैठक में यूपीओबीपीएस पोर्टल पर मानचित्र के स्वीकृति की प्रक्रिया की जानकारी आर्किटेक्ट और अधिकृत ग्रेजुएट इंजीनियर, बिल्डर और संबंधित विभागों के अधिकारी शामिल थे। इसी बीच तीन-चार की संख्या में ऐसे इंजीनियर पहुंच गए, जिनके किसी भी गतिविधि पर तत्कालीन डीएम सीबी सिंह ने रोक लगा दी थी। अधिकृत इंजीनियरों ने जब विरोध किया तो एडीए सचिव ने उन्हें बाहर जाने को कहा, लेकिन वे जाने को तैयार नहीं थे। ग्रेजुएट इंजीनियरों ने आरोप लगाया कि ऐसे अनाधिकृत लोगों के फील्ड में काम करने से हमलोगाें की बदनामी होती है। यह भी आरोप लगाया कि ऐसे लोग एडीए के कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत से बिचौलिए का कार्य करते हैं, जिससे अवैध निर्माण को बढ़ावा मिलता है। ऐसे में अब हमलोग एडीए की किसी भी बैठक में शामिल नहीं होंगे। बहिष्कार में शामिल होने वालों में विपिन कुमार राय, संध्या भारती आदि थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment