.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: कायाकल्प योजना: विद्यालय का हुआ आधुनिकीकरण,डीआईजी ने किया लोकार्पण


2022 तक प्रदेश के सभी विद्यालयों में डेस्क व बेंच की व्यवस्था हो जाएगी- बीएसए

सरायमीर (आजमगढ़): कायाकल्प योजना के अंतर्गत कंपोजिट विद्यालय राजापुर सिकरौर का आधुनिकीकरण कर दिया गया। अब यहां के बच्चों को भी बेहतर शैक्षिक सुविधा मिलेगी। विद्यालय परिसर का माहौल भी पहले से अलग होगा। इसका लोकार्पण रविवार को डीआइजी सुभाष चंद्र दुबे ने किया।
डीआइजी ने कहा पहले और आज के प्राइमरी विद्यालय में जमीन-आसमान का फर्क दिख रहा है। जनजागरूकता के माध्यम से आज की तारीख में प्राइमरी विद्यालय प्राइवेट विद्यालयों की तुलना में अच्छे दिखते हैं। पहले जब हम लोग पढ़ते थे तो घर से बोरी लेकर विद्यालय जाते थे और उसी पर बैठते थे। कहा कि विद्यालय से कोई फर्क नहीं पड़ता, बच्चों और अभिभावकों में शिक्षा की ललक होनी चाहिए। अभिभावकों को चाहिए कि किसी भी हाल में बच्चों को शिक्षा दिलाएं। शिक्षक भी चाहते हैं कि हमारे पढ़ाए बच्चे आगे निकलकर विद्यालय सहित गांव व क्षेत्र का नाम रोशन करें। संस्कार की पाठशाला अभिभावक होते हैं, उसके बाद विद्यालय का दायित्व होता है। बीएसए अंबरीष कुमार ने कहा कि 2022 तक प्रदेश के सभी विद्यालयों में डेस्क व बेंच की व्यवस्था हो जाएगी। सरकार पहले से ही सभी छात्र-छात्राओं को निश्शुल्क जूता, मोजा, स्वेटर, कापी, किताब उपलब्ध करा रही है। इस अवसर पर शेख अब्दुल्लाह, प्रधानाध्यापक एजाज अहमद, सफकत, इंस्पेक्टर अनिल सिंह, लईक अहमद, असलम टाइगर, गुफरान अहमद, इफ्तेखार अहमद, शायर नसीम साज, शादाब आजमी, अशोक कुमार, वसी सिद्दीकी आदि मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment