.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: डीएम ने शिक्षक निर्वाचन सकुशल सम्पन्न कराने को दिए व्यापक निर्देश


पीठासीन अधिकारी, सेक्टर मजिस्ट्रेट/जोनल मजिस्ट्रेट, माइक्रो आब्जर्वर, माइक्रो प्रेक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया

आजमगढ़ 19 नवंबर-- जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता मे नेहरू हाल के सभागार में उत्तर प्रदेश विधान परिषद गोरखपुर-फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन-2020, को सकुशल एवं शांतिपूर्ण ढ़ंग से सम्पन्न कराने हेतु पीठासीन अधिकारी, सेक्टर मजिस्ट्रेट/जोनल मजिस्ट्रेट, माइक्रो आब्जर्वर, माइक्रो प्रेक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने पीठासीन अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मतदान केन्द्र पर पहुॅचकर सबसे पहले मतदान केन्द्र का निरीक्षण कर लें, यदि मतदान केन्द्र पर किसी राजनैतिक दल या प्रत्याशी के पक्ष में कोई प्रचार सामग्री चस्पा हो तो उसे तुरन्त हटवा दें। इसी के साथ ही कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए सभी मतदान कार्मिकों की मेज दूर-दूर इस प्रकार लगायें कि मतदाता सर्वप्रथम पहचान कर अमिट स्याही लगाने वाले मतदान अधिकारी के पास जाये, तत्पश्चात मत पत्र जारी करने वाले अधिकारी के पास तथा अन्त में निशान लगाने वाले अधिकारी के पास जायेगा, तत्पश्चात अपना मत मतपेटी में डालेगा। पीठासीन अधिकारियों को मतदान केन्द्र पर सतर्क दृष्टि रखनी होगी कि वह अपने मत की गोपनीयता भंग न करे। एक समय में केवल एक ही मतपेटी प्रयोग में लगायी जायेगी। पीठासीन अधिकारी मतदेय स्थल पर आवंटित मतदाताओं की संख्या के अनुसार उपलब्ध कराये गये मतपत्रों की संख्या का मिलान कर लें। 
इसी के साथ ही जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी ने उप जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देश दिये कि पीठासीन अधिकारियों को एक व्हाट्सअप गु्रप बना दिया जाय। 
जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों को निर्देश दिये कि 30 नवम्बर 2020 को भ्रमण के समय यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके सेक्टर के मतदेय स्थल का निर्माण कर लिया गया है और निर्वाचन कराये जाने में कोई अवरोध नही है, उसी दिन कुशलता की रिपोर्ट आरटी सेट एवं जिला पुलिस कन्ट्रोल रूम एवं कन्ट्रोल रूम आजमगढ़ को सूचित करेंगे। इसी के साथ ही समस्त सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेट अपने पीठासीन अधिकारियों से इस बात का समाधान करेंगे कि वे निर्वाचन में प्रयुक्त होने वाली समस्त सामग्रियाॅ आदि प्राप्त कर लिये हैं। शांति व्यवस्था बनाये रखने तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष निर्वाचन कराये जाने का दायित्व सेक्टर मजिस्ट्रेट का होगा। 
इसी के साथ ही समस्त सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेट मतदान केन्द्र पर प्रवेश करने वाले निर्वाचकों से कोविड-19 के गाइडलाइन का अनुपालन करायेंगे। मतदेय स्थल पर मतदान हेतु लाइन में खड़े प्रत्येक मतदाता मास्क पहना हो तथा दोनो हाथ में ग्लब्स हो, मतदाताओं में 06 फीट का अन्तर हो तथा यह सुनिश्चित करेंगे कि मतदान केन्द्र पर कोविड हेल्प डेस्क स्थापित हो, जिस पर मतदाताओं के हाथ सेनिटाइज कराये जायें एवं हेल्प डेस्क पर सभी मतदाताओं को अनिवार्य रूप से ग्लब्स उपलब्ध कराया जाय।
उन्होने बताया कि निर्वाचन को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष संचालन हेतु खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए प्रत्येक मतदेय स्थल पर एक-एक माइक्रो आब्जर्वर की तैनाती की गयी है। पे्रक्षक हेतु अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 को नोडल अधिकारी प्रेक्षक बनाया गया है। माइक्रो आब्जर्वर सीधे नोडल अधिकारी के सम्पर्क में रहेंगे। माइक्रो आब्जर्वर मतदान केन्द्र पर पहुॅचकर मतदान की तैयारी का आकलन मतदान प्रारम्भ होने से पूर्व कर लें।
इस अवसर पर प्रभारी अधिकारी मतदान कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, सहायक प्रभारी कार्मिक पीडी अभिमन्यु सिंह, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह, मास्टर ट्रेनर इंजीनियर कुलभूषण सिंह सहित समस्त पीठासीन अधिकारी, सेक्टर मजिस्ट्रेट/जोनल मजिस्ट्रेट, माइक्रो आब्जर्वर व माइक्रो प्रेक्षक उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment