.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: डीएम ने राजकीय धान क्रय केन्द्र पल्हनी का आकस्मिक निरीक्षण किया


केंद्र के मकान मालिक धान विक्रय के प्रयास में मौजूद मिले, डीएम ने जांच का आदेश दिया

एक भी दिन निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप धान क्रय नही किया गया

आजमगढ़ 24 नवंबर-- जिलाधिकारी राजेश कुमार द्वारा राजकीय धान क्रय केन्द्र पल्हनी का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान मनोज कुमार राय निवासी नीबीं, जिनके मकान में यह क्रय केन्द्र संचालित है, उपस्थित मिले। मनोज कुमार राय द्वारा अवगत कराया गया कि वे 40 कु0 धान का विक्रय करने के लिए यहाॅ पर नम्बर लगाने हेतु आये हैं। 
धान क्रय केन्द्र प्रभारी द्वारा अवगत कराया गया कि इनके पिता द्वारा धान का विक्रय किया जा चुका है। जिस पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 को निर्देश दिये कि जब मनोज कुमार राय के पिता द्वारा धान का विक्रय किया जा चुका है, तो इसके बावजूद ये 40 कु0 धान कहाॅ से लाकर विक्रय करने का प्रयास कर रहे हैं, इस प्रकरण की जाॅच कर रिपोर्ट तत्काल उपलब्ध करायें। 
इसी के साथ ही जिलाधिकारी द्वारा क्रय केन्द्र के अभिलेखों का अवलोकन किया गया। जिसमें पाया गया कि दिनांक 23 नवम्बर 2020 को कुल 04 कृषकों से धान क्रय किया गया है तथा आज तक कुल 22 कृषकों से ही 681.60 कु0 धान क्रय किया गया है। पाया गया कि कुल 20 विक्रेताओं का नाम फीड हो चुका है, जिसके सापेक्ष 18 विक्रेताओं के धान के मूल्य का भुगतान किया जा चुका है। धान क्रय केन्द्र पर 300 कु0 धान क्रय किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, किन्तु अभी तक यहाॅ पर कुल 13 दिन ही धान क्रय किया गया है, किन्तु एक भी दिन निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप धान क्रय नही किया गया है, इससे स्पष्ट है कि केन्द्र प्रभारी द्वारा लक्ष्य के सापेक्ष धान खरीद में कोई रूचि नही ली जा रही है। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला खाद्य विपणन अधिकारी को निर्देश दिये कि उक्त केन्द्र प्रभारी सहित सभी केन्द्र प्रभारियों को निर्देशित करें कि निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष धान की खरीद प्रतिदिन करना सुनिश्चित करें। 
जिलाधिकारी द्वारा गोदाम का निरीक्षण किया गया, इस दौरान अब तक क्रय किया गया धान बोरी में रखा पाया गया। केन्द्र प्रभारी ने बताया कि एक बोरी में कुल 40 किग्रा0 धान है, जिसमें स्टैन्सिल भी लगा दिया गया है। केन्द्र प्रभारी ने बताया कि परिवहन हेतु अभी तक कोई ठेकेदार चयनित नही है और न ही राईस मिलर द्वारा धान की उठान किया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला खाद्य विपणन अधिकारी को निर्देश दिये कि उक्त दोनों समस्याओं का निस्तारण करना सुनिश्चित करें। 
निरीक्षण के दौरान धान क्रय केन्द्र पर दो इलेक्ट्रानिक काॅटा उपलब्ध मिला, उक्त दोनो काॅटे चालू हालत में पाये गये। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 गुरू प्रसाद उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment