.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

जो बिडेन को अमेरिकी राष्ट्रपति बनाने में जुटे आजमगढ़ के फ्रैंक इस्लाम, ओबामा की टीम में भी थे


डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन ने आजमगढ़ के फ्रैंक इस्लाम को सौंपी मैरिलैंड राज्य की जिम्मेदारी

फ्रैंक को जिम्मेदारी मिलने की उनके पैतृक गांव कंवरा गहनी सहित आसपास के क्षेत्र में खूब है चर्चा

आजमगढ़. पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के बेहद करीबी माने जाने वाले आजमगढ़ जिले के फैंक इस्लाम को राष्ट्रपति चुनाव में बड़ी जिम्मेदारी मिली है। फ्रैंक इस्लाम को न केवल डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन के साथ काम करने का मौका मिला है, बल्कि अमेरिका में रह रहे भारतीय समुदाय को इस चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के पक्ष में खड़ा करने की भी जिम्मेदारी सौंपी गयी। यही नहीं फ्रैंक इस्लाम को मैरिलैंड जैसे महत्वपूर्ण राज्य की भी जिम्मेदारी सौंप दी गयी है। कारण कि इस राज्य में बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोग रहते हैं। फ्रैंक को मिली इस जिम्मेदारी की जानकारी होने के बाद से ही अमेरिकी राष्ट्रपति का चुनाव आजमगढ़ में चर्चा का विषय बना हुआ है। आजमगढ़ जिले के कौरा गहनी गांव में वर्ष 1947 में किसान परिवार में जन्मे फ्रैंक वर्ष 1970 में 15 साल की उम्र में अमेरिका चले गए थे। उस समय वे पांच सौ डॉलर (करीब 31 हजार रुपए) से भी कम अपने साथ ले गए थे। फैंक का उद्देश्य वहां बेहतर शिक्षा हासिल करना था। बाद में वे वहीं रूक गए। वर्ष 1993 में उन्होंने अपना घर गिरवी रखकर मेरीलैंड की एक घाटे में चल रही आईटी कंपनी को 50 हजार डॉलर (करीब 31 लाख रुपए) खरीदा था। जिसे बुलंदियों पर पर पंहुचाने के बाद समाजसेवा के उद्देश्य से उन्होंने 2007 में अपनी आईटी कंपनी बेच दी और अपना जीवन परोपकार के कामों में लगा दिया। मार्टिन लूथर किंग और गांधी को अपना मार्गदर्शक मानले वाले इस्लाम मार्टिन लूथर किंग जूनियर पुरस्कार से सम्मानित भी किया जा चुका है। फ्रैंक इस्लाम को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के खास मित्रों में गिना जाता है। इस्लाम ने उनके चुनाव अभियान में काफी मदद की थी। राष्ट्रपति बनने के बाद ओबामा ने उन्हें अपना सलाहकार बनाया था। फ्रैंक इस्लाम अमेरिका में एफआई निवेश समूह का प्रमुख भी हैं। वे क्यूएसएस समूह के संस्थापक और सीईओ रह चुके हैं। वे अमरीका में एक सॉफ्टवेयर कंपनी चलाते थे और करोड़ों डॉलर के मालिक तथा बड़े निवेशकों में एक हैं। बराक ओबामा ने इन्हें 2013 में जॉन एफ कैनेडी सेंटर ऑफ बी फॉर्म इन आर्ट्स के न्यासी बोर्ड के जनरल ट्रस्टी नियुक्त किया था। अब उन्हें डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन ने अपनी टीम में शामिल कर लिया है। नवंबर 2020 में अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति के चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन को मैरिलैंड में ट्रंप के उपर जबरदस्त बढ़त दिख रही है। चुनाव में फ्रैंक इस्लाम को डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार के चुनावी खर्चे के लिए फंड जुटाने की भी जिम्मेदारी सौंपी गयी है। फ्रैंक इस्लाम डेमोक्रेटिक पार्टी के चुनावी चंदे के लिए बनाये गये राष्ट्रीय फाइनेंस कमिटी के सदस्य चुने गये हैं। फ्रैंक इस्लाम को मिली जिम्मेदारी से उनके पैतृक गांव कौरा गहनी तथा ननिहाल नंदाव के लोग काफी खुश है। उनका कहना है कि यह सम्मान की बात है कि उनके परिवार के एक सदस्य को दुनिया के सबसे मजबूत देश अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति के चुनाव में अहम भूमिका निभाने का मौका मिला है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment