.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: टूटा जनता का सब्र,शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में किया सड़क जाम




सरकार सहित विद्युत विभाग को कोसते रहे लोग, जगह जगह पुलिस ने आश्वासन दे जाम खुलवाया

खुल गई जिला प्रशासन की व्यवस्थाओं की पोल, 36 घंटों से बिजली, पानी के लिए तरसे है लोग

आजमगढ: प्रदेश सरकार द्वारा प्रस्तावित निजीकरण के विरोध में विद्युत कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार दूसरे दिन भी जारी रहा। गौरतलब है कि 05 अक्टूबर से हड़ताल का एलान तो हुआ था पर 04 अक्टूबर की शाम से जिले में कई स्थानों पर विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई थी । जहां आपूर्ति थी भी वहां भी लोकल फाल्ट के चलते बाद में बंद हो गई । वहीं भीषण गर्मी में पिछले 02 दिनों से विद्युत आपूर्ति नही होने से बिलबिलाए लोगो का सब्र सब्र टूट गया। मंगलवार को शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने जगह जगह चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन करते हुए विद्युत आपूर्ति बहाली की मांग किया। शहर के पुरानी कोतवाली,पहडापुर,हाफिजपुर सहित ग्रामीण क्षेत्र में पवई,जहानागंज व लालगंज में भी चक्का जाम कर दिया गया था। बिजली पानी को तरसे आम लोगों का गुस्सा प्रशासन और बिजली कर्मचारियों पर फूट रहा है। आम जनता और सामाजिक संस्था के लोग सड़कों पर उतर आए हैं। सुबह से ही प्रशासन द्वारा आश्वासन दिया जाता रहा कि बात चल रही है आपूर्ति बहाल हो जाएगी । वही समाजसेवी विनीत सिंह रिशु के नेतृत्व ने मंगलवार की सुबह 9बजे से 10.30 तक हाफिजपुर चौराहे पर चक्का जाम रहा। मौके पर पंहुचे सीओं और एसडीएम सदर के आश्वासन पर धरना समाप्त हुआ। लोगों ने अधिकारियों को चेताया कि अगर मंगलवार की शाम तक बिजली व्यवस्था नही सही हुई तो बुधवार से जनपद में बड़ा आंदोलन किया जाएगा। यहां जाम करने वालों में मनोज यादव, विशाल यादव , अनिल यादव ,अश्वनी सिंह, रोहित, ऋषभ, नन्दलाल, प्रदीप, कदशव मौर्य, सोभित खरवार, मोहन प्रजापति शामिल रहे
वहीं जहानागंज क्षेत्र में गाजीपुर-आजमगढ़ मार्ग पर एक घंटे तक चक्का जाम रहा ।
परदेशी मोड़ पर बिजली कटौती से आक्रोशित ग्रामीणों ने आजमगढ़ गाजीपुर मेन मार्ग को सुबह 9.30 बजे जाम कर दिया। दोनों तरफ से वाहनों की लंबी कतारें लग गई और बिजली विभाग के खिलाफ सड़क पर खड़े होकर लोगों ने नारे लगाए। जिससे आवागमन बाधित हो गया। वही ग्रामीण धीरज राय,आशीष राय,कन्हैया यादव, राजेश यादव,मोनू,संजय यादव,अनुज यादव आदि लोगों का कहना है कि बिजली सोमवार सुबह की कटी हुई है और अब तक ना आने के कारण हम ग्रामीणों को पानी सहित तमाम दिक्कतों का सामना करना पढ़ रहा है। हम लोगों ने अपनी समस्या सोमवार शाम एसडीएम सदर को फोन के माध्यम से बताना चाहा उन्होंने फोन पर बात नहीं किये। सूचना पाते ही थानाध्यक्ष ज्ञानू प्रिया हम राहियों के साथ पहुंची स्थिति को काबू में करते हुए उनकी समस्या सुनते हुए ग्रामीणों से ज्ञापन लिया , इसके पश्चात जाम समाप्त हो गया। खबर लिखे जानेे तक विद्युुत आपूर्ति बहाल नही हो सकी थी ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment