.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए सभी अपने दायित्वों का निर्वहन करें- नोडल अधिकारी



महिलाओं/बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलम्बन के लिए ‘‘मिशन शक्ति’’ विशेष अभियान को नोडल अधिकारी ने हरी झण्डी दिखा कर किया शुरू

आजमगढ़ 17 अक्टूबर-- मिशन शक्ति अभियान के नोडल अधिकारी साधना गोस्वामी (आईपीएस), डीआईजी उ0प्र0 पावर कार्पोरेशन लखनऊ व प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह, एसपी ट्रैफिक सुधीर जायसवाल द्वारा संयुक्त रूप से महिलाओं/बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलम्बन के लिए ‘‘मिशन शक्ति’’ विशेष अभियान को पुलिस लाइन ग्राउण्ड से सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग की एलईडी वैन व डायल 112 को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया। इस अवसर पर नोडल अधिकारी द्वारा पुलिस लाइन के सभागार में मिशन शक्ति अभियान के सम्बन्ध में बैठक की गयी। पुलिस लाइन के सभागार में महिलाओं/बालिकाओं को सुरक्षा के प्रति जागरूकता हेतु पीपीटी का भी प्रदर्शन किया गया। नोडल अधिकारी ने कहा कि भ्रूण हत्या में महिलाएं भी इसके लिए कहीं न कहीं जिम्मेदार हैं, इस रूढ़ीवादी सोच से हमें उपर उठने की जरूरत है। उन्होने बताया कि सरकार द्वारा महिलाओं में सुरक्षा व स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, कन्या सुमंगला योजना, डायल 1090 वुमेन पावर लाइन, 181 महिला हेल्प लाइन, 1076 मुख्यमंत्री हेल्प लाइन, डायल 112 पुलिस आपातकालीन सेवा, 1098 चाइल्ड लाइन, 102 स्वास्थ्य सेवा, 108 एम्बूलेंस सेवा, एण्टी रोमिया स्क्वायड दल, महिला हेल्प डेस्क एवं प्रत्येक जनपदों में महिला थाना स्थापित किया गया है। इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने कहा कि महिलाओं/बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए हम सभी को अपने दायित्वों का निर्वहन करना होगा, हमें शपथ लेने की जरूरत है कि हम महिलाओं/बालिकाओं का सम्मान करेंगे, इसी के साथ ही हम सभी लोगों को धारा-354, धारा 376 को भी पढ़ने व समझने की जरूरत है, तभी हम जागरूक होंगे। नोडल अधिकारी द्वारा सभी को महिलाओं/बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के लिए शपथ दिलायी गयी। इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने कहा कि जनपद के सभी ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में, स्थानीय निकायों, मलिन बस्तियों में रहने वाले लोंगों, श्रमिकों, किसानों आदि सभी वर्गों के सभी लोगों को महिला अपराधों के प्रति सजग रहने के लिए जागरूक किया जायेगा। इस अवसर पर प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला ने बताया कि मिशन शक्ति अभियान की शुरूआत शारदीय नवरात्र दिनांक 17 अक्टूबर 2020 से प्रारम्भ होकर 25 अक्टूबर 2020 तक चलेगा एवं इसके उपरान्त भी मिशन शक्ति अभियान अनवरत जारी रहेगा। आगे उन्होने बताया कि यह विशेष अभियान 180 दिन चलाया जायेगा। यह अभियान महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलम्बन तथा महिला अपराध व बाल अपराध के सम्बन्ध में जागरूकता पैदा करने के लिए चलाया जा रहा है। उन्होने बताया कि देश की आजादी के बाद महिलाओं की स्थिति में काफी सुधार हुआ है, लेकिन अभी भी मानसिक स्तर पर बदलने की जरूरत है। प्रभारी जिलाधिकारी ने बताया कि पण्डित जवाहर लाल नेहरू ने कहा था कि कोई भी देश तब तक आगे नही बढ़ सकता, जब तक कि उस देश की महिलाएं आगे नही बढ़ती। उन्होने बताया कि विकसित देशों में महिलाओं की संख्या पुरूषों से अधिक है एवं महिलाओं को पुरूषों के बराबर हक मिला है। इसी के साथ ही उन्होने बताया कि केरल राज्य में महिलाएं आत्मनिर्भर होकर कार्य कर रही हैं, इससे हम सभी को सीख लेने की जरूरत है। इसी के साथ ही उन्होने बताया कि ग्राम्य विकास विभाग के अन्तर्गत राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में 01 लाख महिलाएं जुड़ी हैं और आजीविका मिशन की महिलाओं द्वारा राशन की दुकानें, बिजली वितरण करने का कार्य, यूनिफार्म सिलाई का कार्य, ग्रामीण क्षेत्रों में सामुदायिक शौचालय का प्रबंधन आदि का कार्य कराये जाने के लिए बल दिया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि पास्को कानून के अन्तर्गत बच्चों का यौन हिंसा से बचाव, सहायता व पुनर्वास तथा हिंसा करने पर दण्ड के प्राविधानों से आम लोगों को जानकारी दी जायेगी। उन्होने कहा कि महिलाओं के साथ छेड़छाड़, उनकी तरफ बुरी नजर से देखना एवं उनका पीछा करना, फोटो खिंचना आदि छोटे-छोटे गतिविधियों को अब अपराध की श्रेणी में लाया गया है, इस तरह की घटना पर अब कार्यवाही की जायेगी। महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रत्येक थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गयी है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, सीओ सदर सिद्धार्थ तोमर, बीएसए अम्ब्रीश कुमार, जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव, जिला समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार सिंह, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह, जिला महिला कल्याण अधिकारी प्रीती उपाध्याय, सीडीपीओ पल्हनी केके सिंह, सीडीपीओ ठेकमा असरार अहमद, वन स्टाप सेन्टर के सदस्यगण सहित आंगनवाड़ी कार्यकत्रियाॅ एवं एनजीओ समूह उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment