.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अब मिठाइयों के लिए अंकित करना होगा 'निर्माण' व 'बेस्ट बिफोर डेट' - डीएम


जानिए मानक के अनुसार किस मिठाई की कितनी दिन की है बेस्ट बिफोर डेट...

आजमगढ़ 30 सितम्बर-- भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण भारत सरकार के प्रावधानों के क्रम में जिलाधिकारी राजेश कुमार द्वारा 01 अक्टूबर 2020 से समस्त मिष्ठान प्रतिष्ठानों को निर्माण तिथि तथा बेस्ट बिफोर डेट लिखने के निर्देश दिए गये हैं, जिसके अनुसार आउटलेट पर बिक्री हेतु प्रदर्शित खुली लूज मिठाइयों के कंटेनर, ट्रे पर निर्माण तिथि एवं बेस्ट बिफोर डेट लिखने के निर्देश हैं। बेस्ट बिफोर डेट मिठाइयों की प्रकृति एवं स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण के निर्देशों के क्रम में ही होंगे, जैसे कलाकंद की उपभोग की अवधि सेम डे अर्थात 1 दिन होगी। अन्य दुग्ध उत्पाद जैसे बादाम मिल्क, रसगुल्ला, रसमलाई रबड़ी, राजभोग, चमचम, संदेश मलाई रोल, हीरामणि, हरी भोग अनुरोध, अनारकली, माधुरी रसकदम, खीर मोहन इत्यादि का बेस्ट बिफोर 2 दिन होगा एवं मिष्ठान उत्पाद रेफ्रिजरेटर में रखे जाएंगे। इसी प्रकार लड्डु एवं खोया की मिठाईयां जैसे मिल्क केक, मथुरा पेड़ा, बर्फी, पिस्ता बर्फी, नारियल बर्फी, चॉकलेट बर्फी, पेड़ा, बूंदी लड्डू, नारियल लड्डू, लाल लड्डू, मोतीचूर, मोदक, खोया बदाम, मेवा बाटी फ्रूट केक, खोया तिल, मलाई घेवर, नारियल लड्डू, छोटा मेवा लड्डू, ड्राई फ्रूट तिल बग्गा, शाही व खोया केसर बादाम रोल, खीर कदम, खीरा बीज बर्फी एवं मोती पाक की अवधि निर्माण की तिथि से 4 दिन है। आगे इसी प्रकार घी में निर्मित मिठाईयां जैसे ड्राई फ्रूट, ड्राई फ्रूट लडडू, काजू कतली, घेवर, शक्करपारा, शाही लड्डू, मूंग बर्फी, आटा लड्डू, ड्राई फ्रूट गुझिया, बालूशाही, बदाम बर्फी, काजू अंजीर रोल, चंद्रकला की निर्माण तिथि से 7 दिन तक अवधि होगी। इसी क्रम में सोहन हलवा, गजक, चिक्की आटा लड्डू, बेसन लड्डू, चना लड्डू, चना बर्फी, अंजीर खजूर बर्फी की उपभोग अवधि निर्माण तिथि से 30 दिन तक की होगी। विस्तृत जानकारी fssai की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment