.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: भारत रक्षा दल ने लावारिस मृतकों की आत्मा की शांति हेतु विधिवत पिंडदान किया


2013 से भारत रक्षा दल द्वारा जिले भर में पाए जाने वाले लावारिस मृतकों का दाह संस्कार किया जा रहा है

आजमगढ़ 13 सितंबर , लावारिस मृतकों का दाह संस्कार करने वाले भारत रक्षा दल के कार्यकर्ताओं ने आज राजघाट पर लावारिस मृतकों की आत्मा की शांति हेतु पिंड दान का कार्य व अपने कार्यालय पर ब्राह्मणों को दान दक्षिणा के साथ भोजन करवा कर प्रार्थना किया ।इस आयोजन में लगे संगठन के कार्यकर्ताओं ने बताया कि अगस्त 2013 से भारत रक्षा दल द्वारा जिले भर में पाए जाने वाले लावारिस मृतकों का दाह संस्कार किया जा रहा है, लावारिस मरने वालों की भी सदगती हो जाए ,उनको भी मुखाग्नि मिल जाए, उनका भी क्रिया कर्म हो जाए ,इसके लिए हम लोग लगातार लगे हुए हैं। एक जमाना था जब आजमगढ़ में लावारिस मृतक की शरीर पोस्टमार्टम के बाद अपनी पावन तमसा नदी में सड़ने के लिए फेंकी जाती थी, यह दृश्य हम लोगों को विचलित कर देता था तभी से हम लोगों ने तय किया कि अब हम लोग लावारिस को नदी में सड़ने के लिए नहीं डालने देंगे, तभी से संगठन द्वारा यह कार्य निरंतर किया जा रहा है ।हिंदू धर्म की परंपराओं, मान्यताओं के अनुसार राजघाट पर ऐसे सभी लावारिस मृतकों का हम लोग दाह संस्कार करते हैं । तुरंत उनकी तेरहीं ,श्राद्ध संभव नहीं होता तो विद्वानों ,ब्राह्मणों से राय लेकर प्रत्येक वर्ष पितृपक्ष में वर्ष भर में के लावारिस मृतकों का एक साथ सामूहिक आह्वान करके पूरे विधि विधान मान्यताओं, परंपराओं के अनुसार, मंत्रोच्चार के बीच सबका पिंडदान किया जाता है और ईश्वर से प्रार्थना की जाती है । तदुपरांत ब्राह्मणों को यथाशक्ति दान दक्षिणा देकर भोजन करवाया जाता है। विगत वर्षों शांति भोज का बड़ा आयोजन होता रहा लेकिन इस वर्ष कोरोना आपदा के कारण सीमित करते हुए सिर्फ ब्राह्मणों को भोजन कराया गया। दाह संस्कार का कार्यक्रम संपन्न कराने में लकड़ी आदि की व्यवस्था करनी होती है इसके लिए हम लोगों के तमाम सहयोगी ,शुभचिंतक लगातार सहयोग करते हैं, वर्तमान में स्थिति तो यह है की सहयोगीयों के लिए मना कर दिया गया है कि वे कुछ महीनों तक हमें आर्थिक सहयोग ना करें। भविष्य में जब भी जरूरत होगी अनुरोध कर लिया जाएगा। भारत रक्षा दल के सभी कार्यकर्ता अपने सहयोगियों, शुभचिंतकों व प्रोत्साहित करने वालों के प्रति आभार प्रकट करते है कि आप लोग ना होते तो यह सब चाह कर भी हम लोग नहीं कर पाते। आज के पिंड दान में प्रमुख रूप से उमेश सिंह गुड्डू आरपी श्रीवास्तव जैनेंद्र चौहान और शक्ति शरण जी ने बाकायदा लावारिस का वारिस बनकर पिंड दान दिया । इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से केशव प्रसाद सोनू, प्रदीप चौहान, रवि प्रकाश ,राजन अस्थाना, मनीष कृष्ण,धर्मवीर, सुनील वर्मा, बृजेश मिश्रा, दुर्गेश श्रीवास्तव, जय किशन पप्पू जावेद अंसारी डॉ धीर जी ,धनंजय अस्थाना मनोहर प्रसाद ,दीपक जायसवाल ,प्रवीण कुमार गौड़,अनूप श्रीवास्तव,आलोक शर्मा,नसीम अहमद,हरिकेश विक्रम,मो अफजल, छाया अग्रवाल ,नीतू मिश्रा ,पुष्पांजलि गुप्ता, सरिता श्रीवास्तव ,पुरोहित में पंडित पांडेय व सौरभ मिश्रा रहे ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment