.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : आई जांच रिपोर्ट, पापड़ और नमकीन के नमूने में मिला हानिकारक तत्व

प्रयोगशाला की जांच में खाद्य पदार्थों के 07 नमूने असुरक्षित मिले, एफएसडीए ने कार्यवाई के लिए पत्र लिखा

आजमगढ़ 27 अगस्त-- खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा आम जनमानस को सुरक्षित खाद्य एवं पेय पदार्थ उपलब्ध कराने के लिए जिलाधिकारी के निर्देश पर अभियान चलाकर पूरे जनपद से विभिन्न खाद्य पदार्थों के नमूने लिए गए थे। जिनकी जांच रिपोर्ट प्रयोगशाला से प्राप्त हो गई है, जिसके अनुसार 7 नमूने असुरक्षित पाए गए हैं।
अभिहीत अधिकारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, डाॅ0 दीनानाथ यादव ने बताया कि फैमिली बाजार से रंगीन पापड़ के तीन नमूने लिए गए थे, जो कि जांच में असुरक्षित एवं मिथ्या छाप पाए गए हैं, इनमें टेट्राजीन नामक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक रंग की मिलावट पाई गई। दीदारगंज बाजार से परिवार ब्रांड के नमकीन में भी टेट्राजीन की मिलावट पाई गई एवं नमूना असुरक्षित पाया गया। फरिहा से बेसन का नमूना भी असुरक्षित पाया गया, मधुपुर एवं नंद नगर से क्रमशः आशीष ब्रांड की नमकीन एवं जय दुर्गा ब्रांड की नमकीन में भी टेट्राजीन रंग की मिलावट पाई गई एवं नमूना असुरक्षित पाया गया। इसी प्रकार से कनक श्री एडिबल फैट का नमूना भी असुरक्षित घोषित हुआ है।
उक्त से संबंधित पत्रावली आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को प्रेषित कर दी गई हैं, जहां से स्वीकृति प्राप्त होते ही माननीय न्यायालय एसीजेएम प्रथम में वाद दायर कर दिया जाएगा, जहां पर अधिकतम 3 वर्ष तक का कारावास या पांच लाख तक का जुर्माना उपर्युक्त मामलों में संभव है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment