.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

महामारी के दौरान डयूटी से नदारद चल रहे 05 चिकित्सकों को डीएम की चेतावनी

09 अगस्त तक सेवा में लौटें,नही तो महामारी अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज होगी- डीएम

आजमगढ़ 08 अगस्त-- जिलाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि राजकीय मेडिकल कालेज आजमगढ़ में कार्यरत चिकित्सा शिक्षक कोविड-19 महामारी में अपनी ड्यूटी पर अनुपस्थित चल रहे हैं। अनुपस्थित चल रहे चिकित्सा शिक्षकों में 1-डाॅ0 विशाल गुप्ता, सह आचार्य मेडिसीन विभाग, पता-न्यू टाइप-IV/20, जीएसवीएम मेडिकल कालेज कैम्पस, कानपुर, 2-डाॅ पवन कुमार सिंह, सह आचार्य सर्जरी विभाग, पता-न्यू टाइप-IV/40, जीएसवीएम मेडिकल कालेज कैम्पस, कानपुर, 3-डाॅ0 अजेश चन्द्र गुप्ता, आचार्य/विभागध्यक्ष मेडिसीन विभाग, पता-एल 17, जीएसवीएम मेडिकल कालेज, कैम्पस कानपुर, 4-डाॅ0 अनिल कुमार गुप्ता, आचार्य/विभागाध्यक्ष आर्थोपेडिक्स विभाग, पता-पी 6 जीएसवीएम मेडिकल कालेज कैम्पस कानपुर, 5-डाॅ0 अरूण कुमार यादव प्रवक्ता कम्यनिटी मेडिसीन विभाग, पता-दिलकुशा कालोनी लखनऊ, शामिल हैं।
जिलाधिकारी ने बताया कि उपरोक्त चिकित्सा शिक्षक राजपत्रित अधिकारी हैं, इनकी सेवाएं अनिवार्य सेवाओं के अन्तर्गत आती हैं। शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में वर्तमान में वैश्विक स्तर पर महामारी घोषित हो चुके कोविड-19 की भयावह स्थिति में भी कोविड-19 के मरीजों के उपचार एवं अन्य संबंधित सेवाओं में योगदान नही किया जा रहा है।
जिलाधिकारी ने उपरोक्त सभी चिकित्सा शिक्षकों को यह निर्देश दिये हैं कि कल दिनांक 09 अगस्त 2020 तक आकर इस वैश्विक महामारी में अपनी सेवााएं देना सुनिश्चित करें, नही तो उनके खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज करा दी जायेगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment