.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

जन कल्याणकारी योजनाओं के लोन आवेदकों की लंबित पत्रवलियाँ तत्काल स्वीकृत करें बैंक- डीएम

लॉक डाउन में प्रभावित पुराने उद्यमों को उनके आउटस्टैण्डिंग ऋण का 20 प्रतिशत बिना किसी गारण्टी के  दिया जा रहा है - एलडीएम यूबीआई 

आजमगढ़ 02 जुलाई-- जिलाधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम) के अन्तर्गत पुराने ग्राहकों को लोन दिलाये जाने के सम्बन्ध में संबंधित बैंक प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर एलडीएम यूबीआई द्वारा अवगत कराया गया कि समस्त बैंकों में 29 फरवरी 2020 के पहले के एमएसएमई के अन्तर्गत जिनका आउटस्टैण्डिंग ऋण 25 करोड़ तक है, लाकडाउन के पश्चात उन सभी इकाईयों को उनके संचालन में आने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए उनके आउटस्टैण्डिंग ऋण का 20 प्रतिशत बिना किसी गारण्टी के अतिरिक्त रूप में उपलब्ध कराया जा रहा है।
इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने समस्त बैंकों के प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के अन्तर्गत आवेदकों द्वारा लोन के लिए प्रस्तुत किये गये जो भी पत्रावली एक महीने से लम्बित है, उन पत्रावलियों को तत्काल स्वीकृत करें या जो अस्वीकृत किये जा रहे हैं, उनके कारण सहित रिपोर्ट तैयार कर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, एलडीएम यूबीआई शंकर चन्द सामंत, डीडीएम नाबार्ड शशि भूषण, उपायुक्त उद्योग प्रवीण कुमार मौर्य सहित बैंक आफ बड़ौदा, सेन्ट्रल बैंक आफ इण्डिया, यूको बैंक, इण्डियन बैंक, पीएनबी, एचडीएफसी बैंक के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment