.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : यह गैंग अंगूठे का क्लोन तैयार कर बैंक खाते से उड़ाता था धन,साइबर कॉप ने दबोचा

जालसाज ग्रामीणों को योजनाओं का लाभ दिलाने के बहाने आधार कार्ड संग लेते थे फिंगर प्रिंट -त्रिवेणी सिंह , एसपी 

आजमगढ़ : अंगूठे के निशान का क्लोन तैयार कर बैंक खाते में पड़ी लोगों की गाढ़ी कमाई उड़ाने वाला गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ गया। साइबर कॉप के नाम से विख्यात एसपी आजमगढ़ प्रो0 त्रिवेणी सिंह के निर्देशन में उनकी साइबर सेल टीम और मेंहनगर पुलिस ने साइबर अपराध से जुड़े तीन बदमाशों को दबोचा तो सनसनीखेज सच्चाई सामने आ सकी। गिरोह के जड़ तक पहुंचने को पुलिस ने घंटों पूछताछ के बाद आरोपितों का चालान कर दिया। मेंहनगर क्षेत्र के पिथौरपुर गांव निवासी अनमोल सिंह के खाता से 10-10 हजार कर 30 हजार रुपये साइबर अपराधियों ने निकाले थे। पीड़ित ने मंगलवार को मेंहनगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। साइबर सेल के आरक्षी मनीष कुमार ने जब जांच पड़ताल की तो तीन साइबर अपराधियों का नाम प्रकाश में आये। मेंहनगर इंस्पेक्टर दुजेंद्र कुमार सिंह ने तीनों साइबर अपराधियों को गुरुवार की सुबह देवईत बाजार के समीप से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए साइबर अपराधियों में सोनू पटेल, चंद्रशेखर पटेल ग्राम भूसवल पोखरा थाना रौनापार व जय हिद यादव ग्राम रशीदाबाद थाना जीयनपुर के निवासी हैं। एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश सरकारी योजना के नाम पर गांव-गांव में जाकर सीधे साधे ग्रामीणों को सरकारी योजना का लाभ दिलाने का झांसा देकर उनसे आधार कार्ड का फोटो कापी मांगते थे। फोटो कापी को सत्यापित करने के नाम पर उनका अंगूठे का छाप ले लेते थे। उसी अंगूठे की छाप से बायोमीट्रिक क्लोनिग तैयार कर ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक से सांठ-गांठ कर लोगों के बैंक खाते में पड़ी धनराशि निकाल लेते थे। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment