.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मण्डलायुक्त ने खराब सड़कों व जलजमाव की स्थिति का लिया जायजा,कहा तत्काल दुरुस्त करें

मण्डलायुक्त ने सिधारी पुल के दोनों तरफ की ध्वस्त सड़कों तथा बेलइसा में जल जमाव का निरीक्षण किया 

आज़मगढ़ 7 जुलाई -- नवागत मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने मीडिया प्रतिनिधियों के माध्यम से प्राप्त आमजन से जुड़ी समस्याओं के प्रति पूरी गंभीरता दिखाते हुए मंगलवार को नगर के सिधारी स्थित पुल के दोनों तरफ ध्वस्त हो चुकी सड़क तथा आज़मगढ़-वाराणसी मार्ग पर बेलइसा में सड़कों पर भारी जल जमाव की स्थिति का मौके पर जायजा लिया तथा लोक निर्माण विभाग के सम्बन्धित अधिशासी अभियन्ता को तत्काल इसे दुरुस्त करने का निर्देश दिया। ज्ञातव्य हो कि गत दिवस मण्डलायुक्त द्वारा आयोजित परिचयात्मक वार्त के दौरान मीडिया प्रतिनिधियों ने जनपदवासियों से जुड़ी कतिपय समस्याओं के सम्बन्ध में मण्डलायुक्त को अवगत कराया था, जिसपर उन्होंने स्वयं स्थलीय निरीक्षण कर उसके समयवद्ध निस्तारण कराने के सम्बन्ध में कहा गया था। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने निरीक्षण के दौरान नगर के मुहल्ला सिधारी स्थित पुल के दोनों तरफ सड़कों की स्थिति को देखा तो पाया कि ठीक पुल से लगी सड़क एक तरफ से ध्वस्त हो गयी है तथा वहाॅं काफी बड़ा गड्ढा बन गया है। इसके अलावा पुल से लगी हुई सड़क काफी नीचे बैठ गई है, जोे आने जाने वालों के लिए काफी खतरनाक है तथा इससे दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। उन्होंने इस सम्बन्ध में लोक निर्माण विभाग के सम्बन्धित अधिशासी अभियन्ता को सख्त निर्देश दिया कि सुरक्षा की दृष्टि से तत्काल गड्ढे से पर्याप्त दुरी पर ईंट पत्थर आदि रखकर उस हिस्से से आवागमन को रोका जाय। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने यह भी निर्देश दिया कि गड्ढे को पाटकर स्थायी रूप से आवागमन योग्य बनाया जाय। उन्होंने पाया कि पुल के दोनों तरफ की सड़कें नीचे की ओर बैठ जाने के फलस्वरूप पुल के लेवल से काफी नीचे हो गयी है, जिससे आने जाने वालों को काफी परेशानी हो रही है। इस सम्बन्ध में भी अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित करते हुए कहा कि इस आशय की शिकायतें प्राप्त हुई हैं कि समतल करने के कुछ ही दिनों बाद यह स्थिति पुनः बनी जाती है, इसलिए दोनों तरफ की सड़कों का लेवल स्थायी रूप पुल के बराकर किया जाय, ताकि बार-बार ऐसी स्थिति उत्पन्न होने से निजात मिल सके।
मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने इसी क्रम में आज़मगढ़-वाराणसी मार्ग का भी मौके पर निरीक्षण किया। इस दौरान बेलइसा ओवर ब्रिज से मण्डी परिषद तक सड़क पर भारी जल जमाव पाया गया। अवगत कराया गया कि यह सड़क लोक निर्माण विभाग के निर्माण खण्ड-5 के तहत आती है। इस पर मण्डलायुक्त श्री पन्त ने निर्देश दिया कि यद्यपि कि सड़क पर निर्माण कार्य चल रहा है, इसके बावजूद बरसात को देखते हुए जल निकासी की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए, ताकि जल जमाव के कारण आवागमन प्रभावित न हो। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि जल निकासी की व्यवस्था प्राथमिकता के आधार पर होनी चाहिए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment