.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : लाइफ लाइन हॉस्पिटल पर आरोप बेबुनियाद, पूर्णतः असत्य एवं गलत है -आई एम ए

जिले के निजी अस्पताल शासन एवं प्रशासन के निर्धारित मानदंडों का पूर्णतः पालन कर रहे हैं - इंडियन मेडिकल एसोसिएशन

सीएमओ द्वारा अस्पतालों को कौविड 19 के हेतु ट्रेनिंग देकर सक्षम किया गया है 

आजमगढ़ : कोरोना महामारी को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की एक बैठक आहुत की गयी। बैठक के बाद आई एम ए अध्यक्ष डॉ डी पी राय, सचिव डॉ खालिद एवं समन्वयक डॉ जावेद ने सयुंक्त रुप से प्रेस को सम्बोधित किया और बताया कि आजमगढ़ जनपद के प्राइवेट अस्पताल एवं नर्सिंग होम प्रशासन के निर्धारित मापदंडो के अधीन सुचारु रूप से कार्य कर रहे है और शासन एवं प्रशासन के निर्धारित मानदंडों का पूर्णतः पालन कर रहे हैं। आजमगढ़ जनपद के लाड़फ लाइन हॉस्पिटल के बारे में जो भ्रामक प्रचार किया जा रहा है वो पूर्णतः असत्य एवं गलत है। उक्त हॉस्पिटल ने शासन एवं प्रशासन दवारा जारी किये गए गाइड लाइन का पूर्णतया पालन किया है। शासन प्रशासन व प्राइवेट अस्पतालों बीच अच्छे समन्‍यव से कोरोना मरीजों एवं अन्य मरीजों का इलाज किया जा रहा है यदि किसी अस्पताल में भर्ती किसी भी मरीज का टेस्ट के बाद कोरोना पॉज़ौटिव आता है तो उसके ल्रिए निर्धारित हॉस्पिटल मैं रेफर कर दिया जाता है और हॉस्पिटल का नियमानुसार सैनेटाइज़ेशन आदि किया जाता है। अस्पतालों को सील नहीं किया जाता है। ज़ातव्य है कि सीएमओ द्वारा अस्पतालों को कौविड 19 के हेतु ट्रेनिंग देकर सक्षम किया गया है इसी क्रम में नीमा के पांच अस्पतालों को भी 05 दिन पहले मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा ट्रेंड किया गया है अब वो अस्पताल भी और अन्य प्राइवेट अस्पतालों की श्रेणी में आयेंगे अब उनके साथ भी वही व्यवहार किया जायेगा जो अन्य अस्पतालों के साथ होता है। कुछ लोगों द्वारा लाइफ लाइन अस्पताल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं प्रशासन के सम्बन्ध मैं भ्रामक प्रचार किया गया ,जिससे चिकित्सकों एवं मरीजों पर मानसिक दबाव बढ़ता है तथा वे हतोत्साहित होते है जो जनमानस के लिए उचित नहीं है इन अफवाहों से समाज में गलत संदेश उत्पन्न होता है जो सही नहीं है। प्रत्येक व्यक्ति की एक जिम्मेदारी है कि वह सही तथ्य को ही समाज में प्रस्तुत करे।  शासन, प्रशासन एवं चिकित्सक नें इस महामारी मे जिस प्रकार अपने कर्तव्य एवं दायित्व का निर्वहन किया है उसकी जितनी भी सराहना की जाए कम हैं आई. एम. ए. आजमगढ़ शासन प्रशासन लाइफ लाइन हॉस्पिटल एवं अन्य अस्पतालों के साथ समन्वय बना कर कदम से कदम मिल्रकर खड़ा है और रहेगा। साथ ही संगठन ने समस्त मीडिया से अपील किया कि सकारात्मक चीजों को ही समाज में प्रस्तुत करे जिससे किसी के मनोबल में कमी न हो। प्रेस कॉन्फ्रेंस में डॉ फुरकान ,अध्यक्ष डॉ डी पी राय एवं डॉ ए के राय इत्यादि लोग उपस्थित थे। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment