.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : लगभग सवा दो घंटे रहे सीएम योगी,जिला अस्पताल का किया निरीक्षण


कोरोना टेस्टिंग मशीन आ गई है, ऐसे में ओपीडी, ऑपरेशन वाले मरीजों पर भी ध्यान दें - योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री 

अधिकारियों से कहा कोरोना मरीजों के सामने कोई समस्या ना आए, पार्टीजनो को प्रवासियों की मदद को प्रेरित किया 

आजमगढ़ : जिले में लगातार बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या के बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को आजमगढ़ पंहुच कर स्वास्थ्य व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने मंडलीय जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया , वहीँ अधिकारियों के साथ बैठक और कुछ पार्टी पदाधिकारियों से मंत्रणा किया। सीएम सोमवार को हेलीकाप्टर से करीब पौने तीन बजे गोरखपुर से चलकर आजमगढ़ के लिए निकले। वहां से करीब 3.10 बजे आजमगढ़ के पुलिस लाइन पहुंचे। सवा तीन बजे से उन्होंने पुलिस लाइन के नवीन गोष्ठी भवन में कुछ पार्टी पदाधिकारियों संग बैठक की। इसके बाद 3.56 बजे मुख्यमंत्री मंडलीय जिला चिकित्सालय का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे। वहां उन्होंने कोरोना टेस्टिंग के लिए आयी ट्रूनाट मशीन का अवलोकन किया। जिला अस्पताल का लगभग 10 मिनट तक निरीक्षण करने के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि जिले में कोरोना मरीजों के सामने कोई समस्या ना आए। उन्होंने कहा कि अस्पताल की व्यवस्था भी ठीक है और कोरोना टेस्टिंग मशीन भी आ गई है। ऐसे में यहां ओपीडी और ऑपरेशन वाले मरीजों की संख्या बढ़ाने पर ध्यान दिया जाए। निरीक्षण के दौरान उनके साथ कमिश्रर, डीआइजी, डीएम व एसपी मौजूद रहे । इसके बाद 4.21 बजे फिर पुलिस लाइन स्थित नवीन गोष्ठी भवन के लिए रवाना हुए जहां अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की । पुलिस लाइन के नवीन गोष्ठी भवन में ही मुख्यमंत्री ने पार्टी के क्षेत्रिय मंत्री , दोनों जिलाध्यक्षों और विधायक अरुण यादव और से बातचीत किया। सीएम ने उन्हें कोरोना संक्रमण के दौरान भारी संख्या में आ रहे प्रवासियों की हर संभव मदद करने के टिप्स दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि काफी संख्या में ट्रेन बस व निजी व्यवस्था से प्रदेश के हर जिले में प्रवासी आ चुके हैं और उनका आना जारी भी है। उनकी सहायता के लिए शासन प्रशासन के अलावा पार्टी की तरफ से जगह-जगह शिविर लगाए गए थे। इस दौरान उन्हें भोजन, नाश्ता एवं चप्पल तक दिए गए। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि सरकार प्रवासियों की मदद के लिए पूरी तरह तैयार है। जिन प्रवासियों के स्वजन किसी योजना से आच्छादित नहीं हैं उन्हें 1000 रुपये दिए जा रहे हैं। शहर से लेकर गांव तक प्रवासियों की सूची तैयार की जा रही है जिसका सत्यापन कराने के बाद उन्हें भी 1000 रुपये दिया जाएगा। जिन परिवारों के लोगों की किसी कारण से मृत्यु हो चुकी है उनके स्वजनों के भरण-पाेषण के लिए भी सरकार ने पैसा दिया है। अंत में उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि प्रवासियों को जिन योजना से आच्छादित करने के लिए सूची तैयार की जा रही है। उसका अपने स्तर से भी सत्यापन कराएं। किसी प्रकार की गलती न हो। कोई भी प्रवासी सरकार की योजनाओं से लाभ से वंचित नहीं होना चाहिए। कोरोना संक्रमण में सोशल डिस्टैन्सिंग का पालन यहाँ भी दिखा , सीएम से केवल कुछ लोग ही मिले जिनमें भाजपा विधायक फूलपुर पवई अरुणकांत यादव, जिलाध्यक्ष सदर ध्रुव कुमार सिंह व लालगंज जिलाध्यक्ष ऋषिकांत राय, भाजपा के क्षेत्रीय महामंत्री सहजानंद राय, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष विनोद राय, हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश संयोजक व कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. राकेश राय उपस्थित थे। वही शाम 05:30 पर मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर वाराणसी के लिए निकल गया। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment