.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : पंजाब के लुधियाना और गुजरात के वापी से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से घर आये प्रवासी



लुधियाना से आने वालों में 1161 आजमगढ़ तथा बाकी दूसरे जिले के थे, वापी से आने वालों में अधिकतर गैर जनपदों के थे 

जिले में उतरे सभी प्रवासियों की स्क्रीनिंग,काउंसलिंग के बाद भोजन का पैकेट दे कर बसों से क्वारंटाइन सेंटरों पर भेजा गया

आजमगढ़ : गैर प्रांतों में रहने वालों के गृह जनपद पहुंचने का सिलसिला सोमवार को भी जारी रहा। पंजाब के लुधियाना और गुजरात के वापी शहर से चली श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से 2746 लोग जिले में पहुंचे। इसमें लुधियाना से 1246 जबकि वापी से लगभग 1500 लोग सवार थे । सभी बोगियों को बारी-बारी से खोलकर यात्रियों को उतारा गया और कतारबद्ध करके थर्मल स्क्रीनिग और काउंसिलिग के बाद भोजन का पैकेट देकर बसों से तहसीलों में बने क्वारंटाइन सेंटरों पर भेजा गया। लुधियाना से आने वालों में 1161 आजमगढ़ तथा बाकी दूसरे जिले के थे। वापी से आने वालों में अधिकतर गैर जनपदों के थे जिन्हें बसों से उनके गृह जनपद को रवाना किया गया। सर्दी, जुकाम के लक्षण वाले आठ प्रवासियों को चिकित्सकों की देखरेख में रखा गया था। एक ही दिन बड़ी संख्या में कामगारों के पहुंचने की जानकारी पर प्रशासनिक अमला सुबह से शाम तक व्यवस्था में लगा रहा। मेडिकल परीक्षण के बाद बाहर निकलने वालों को प्रशासन की ओर से तैनात लोग तहसील क्षेत्र पूछकर बसों के बारे में जानकारी दे रहे थे, तो कई संगठनों की ओर से स्टाल लगाकर बिस्किट और पानी दिया जा रहा था। अन्य अधिकारियों के साथ डीएम नागेंद्र प्रसाद सिंह ने भी पहुंचकर यात्रियों का हालचाल और व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। उधर दोपहर में लुधियाना से आने वालों ने बताया कि वहां स्टेशन पहुंचने पर मेडिकल परीक्षण के बाद पर्ची के साथ मुफ्त में टिकट दिया गया। दो स्थानों पर भोजन का पैकेट भी मिला, जबकि शाम को गुजरात के वापी शहर से आए यात्रियों ने बताया कि उनसे टिकट का पैसा वसूला गया। उनके मन में घर पहुंचने की खुशी के साथ इस बात का दर्द भी था कि सरकार ने उनके लिए टिकट की व्यवस्था नहीं की।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment