.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : होम क्वारंटाइन से घूमते मिले तो होगी सख्त कार्रवाई - डीएम

होम क्वारंटाइन व्यक्ति के घर में जगह न हो तो उसे शेल्टर होम में रखें - डीएम 

सभी एसडीएम व तहसीलदार को प्रतिदिन पांच-पांच गांवों का निरीक्षण करना अनिवार्य हुआ 

आजमगढ़ : लॉकडाउन में काफी संख्या में प्रवासी आ रहे हैं। इसलिए सभी एसडीएम व तहसीलदार को प्रतिदिन पांच-पांच गांवों का निरीक्षण करना अनिवार्य है। जिन लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है यदि वे बाहर घूमते मिलते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। यह निर्देश डीएम नागेंद्र प्रसाद सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक में दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि यह भी देखा जाए कि यदि कोई व्यक्ति होम क्वारंटाइन है और उसके घर में जगह की कमी है तो उसको शेल्टर होम में रखें। सरकार के निर्देशानुसार सभी प्रवासियों के अस्थाई राशन कार्ड बनाए जाने हैं। उसके लिए कोटेदारों का सहयोग लेकर जल्द से जल्द सूची फाइनल कर लें। जिससे उनका राशनकार्ड बनाया जा सके। ग्राम राजस्व समिति की बैठक कर लें, जिससे ग्राम स्तर पर ही छोटे-छोटे विवादों का निस्तारण हो सके। प्रवासियों का चिह्नित करें। जिनके पास आधारकार्ड नहीं है या अन्य प्रदेशों के रहने वाले हैं, उनका भी राशनकार्ड बनाया जा सके। सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला, सीआरओ हरिशंकर, एडीएम प्रशासन नरेंद्र सिंह, एडीएम एफआर गुरु प्रसाद गुप्ता, एसीएमओ डा. एके सिंह भी थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment