.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : जिलाधिकारी ने मनरेगा कार्यो का आकस्मिक निरीक्षण किया


जिलाधिकारी ने कान्हा गोवंश आश्रय स्थल शाहगढ़ का भी आकस्मिक निरीक्षण किया 

आजमगढ़ 03मई-- कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत लाॅकडाउन की स्थ्तिि में शासन के निर्देशानुसार मनरेगा के अन्तर्गत जाब कार्ड धारको एवं प्रवासी मजदूरों को उनके ग्राम पंचायत में ही जाॅबकार्ड बनावकर रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। उक्त के क्रम में जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा ग्राम पंचायत शाहगढ़ विकास खण्ड सठियांव, में मनरेगा योजनान्तर्गत कराये जा रहे कार्यो का आकस्मिक निरीक्षण किया गया।
निरीक्षण के दौरान ग्राम पंचायत में स्थित पोखरा खुदाई का कार्य चल रहा था, जिसमें प्रधान एवं ग्राम पंचायत अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि पोखरा खुदाई में कुल 59 मजदूर लगे हैं, जिसमें से 28 महिला एवं 31 पुरूष हैं । साथ ही यह भी बताया गया कि कुल मजदूरों में 57 अनुसूचित जाति एवं 2 पिछड़ी जाति के मजदूर हैं तथा इन मजदूरों में स्वयं सहायता समूह की महिलाएं भी कार्यरत हैं।
जिलाधिकारी ने कार्यरत् मजदूरों से बात की गयी जिसमें मजदूरों द्वारा अवगत कराया गया कि उनके परिवार के सदस्य विभिन्न राज्यों में मजदूरी/रोजगार हेतु गए थे, जो वर्तमान लाकडाउन को देखते हुए अपने घर आना चाहते हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने सभी मजदूरों के अवगत कराया गया कि जो भी व्यक्ति जहां पर हैं, वहां पर नजदीकी थाने पर अपना डीटेल पता, आधार नम्बर सहित नोट करायें, ताकि वहां से सूची तैयार करने के बाद वह सूची शासन में आयेगी, उसके उपरान्त उनके आने की व्यवस्था शासन स्तर से की जाएगी।
खण्ड विकास अधिकारी सठियांव द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में एक वाहा सफाई का भी कार्य चल रहा है तथा एक चकरोड का कार्य पूर्ण कर लिया गया है।
इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने कान्हा गोवंश आश्रय स्थल शाहगढ़ का आकस्मिक निरीक्षण किया । जिसमें निरीक्षण के दौरान पाया गया कि गोवंश आश्रय स्थल 60 पशुओं को रहने हेतु निर्मित हो चुका है, किन्तु अभी तक एक भी पशु यहां पर नहीं हैं। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी सठियांव को निर्देश दिए कि गोवंश आश्रय स्थल पर स्थानीय कृषको से वार्ता कर भूसा एकत्र कर रखें, ताकि भविष्य में रखे जाने वालें पशुओं को भूसा की कमी न हो सके।यह भी निर्देश दिए कि आश्रय स्थल के चारों तरफ से कटीले तार से घेराबन्दी करें, जिससे पशु इस आश्रय स्थल से बाहर न जा सके।
निरीक्षण के समय श्रीमती रीता यादव पत्नी रामबदन यादव निवासी ग्राम पैकौली विकास खण्ड सठियांव द्वारा अवगत कराया गया कि उनके परिवार में कुल 8 सदस्य हैं, किन्तु विगत् तीन माह से राशन कार्ड सूची से नाम कट जाने के कारण उन्हें कोटे की दुकान से राशन नहीं मिल पा रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी सठियांव को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रकरण का संज्ञान लेकर राशन को को सही कराना सुनिश्चित करें, जिससे इन्हें नियमित रूप से कोटे की दुकान से खाद्यान्न मिल सके, और रामबदन यादव जो राजगिर मिस्त्री हैं, किन्तु इनका नाम श्रम विभाग में पंजीकृत नही है। इसके लिए जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी सठियांव को निर्देश दिए कि राम बदन यादव का नाम श्रम विभाग में नियमानुसार पंजीकृत कराना सुनिश्चित करें, ताकि उक्त योजना का लाभ उन्हें मिल सके।
इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी सठियांव/जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश कुमार यादव, सहायक विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत अधिकारी सहित अन्य कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment