.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

जिलाधिकारी व विशेष कार्याधिकारी ने प्रवासी मजदूरों से सम्बन्धित बिंदुओं पर समीक्षा किया

निर्धारित मानक के अनुसार प्रवासियों के कोरेन्टाइन, स्वास्थ्य परीक्षण आदि के अतिरिक्त शेल्टर होम में रख राशन-किट वितरण पर चर्चा हुई   

आजमगढ़ 28 मई-- जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह व विशेष कार्याधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में देर सांय कोविड-19 के दृष्टिगत प्रवासी मजदूरों के सम्बन्ध में निर्धारित एसओपी के अनुसार कोरेन्टाइन, स्वास्थ्य परीक्षण आदि के अतिरिक्त शेल्टर होम में रोक कर राशन-किट  के वितरण आदि बिन्दुओं के सम्बन्ध में  समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त एसडीएम को निर्देश दिए कि प्रवासी मजदुरों को रूकने हेतु बनाये गये शेल्टर होम की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें। ग्राम स्तर पर होम कोरेन्टाइन हुए व्यक्तियो के निरीक्षण के लिए बनाये गये ग्राम निगरानी समिति को सक्रिय रखें।
उन्होने यह भी निर्देश दिए कि जो प्रवासी मजदुर ट्रेन/बसों से आ रहे, उनकों सम्बन्धित तहसीलों में भेज कर वहां पर उनका नाम व पता, स्कील मैपिंग आदि कराते हुए उनको राशन-किट उपलब्ध कराकर होम कोरेनटाइन करायें। इसी के साथ ही जो प्रवासी मजदुर अन्य साधनों से आ रहे है, उन प्रवासी मजदुरों को खाता नं0 प्राप्त करते हुए 1000 रू0 की अनुमन्य सहयता धनराशि उपलब्ध करायंे।
जिलाधिकारी ने समस्त एसडीएम को निर्देश दिए कि प्रत्येक तहसीलों में एक-एक फेसिलिटी कोरेन्टाइन सेण्टन कम से कम 100 बेड का सक्रिय रखे। इसमें उन व्यक्तियों को रखा जायेगा, जिसमंे कोरोना के लक्षण हो, उनके बेड की दुरी कम से कम तीन से चार मीटर रखे। इसी के साथ ही इस सेण्टर में जो व्यक्ति सफाई में लगे हुए है व खाना परोसने का कार्य करते हो उनको पीपीई कीट उपलब्ध कराये। कुछ पीपीई कीट रिजर्व रखे। प्रवासी मजदुरों के स्वास्थ्य परीक्षण पर विशेष ध्यान रखे।
जिलाधिकारी ने समस्त एसडीएम/इन्सीडेन्ट कमाण्डर को निर्देश दिए कि जिन क्षेत्रों में कन्टेनमेण्ट जोन द्योषित है उस क्षेत्र में मनरेगा का कार्य न कराया जाय एवं कन्टेनमेण्ट जोन के श्रमिकांे को अन्य किसी क्षेत्रों में मनरेगा का कार्य न करें।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह ने कहा कि जनपद में प्रवासी मजदुरों के अधिक संख्या मंे आने पर भूमि-विवाद ज्याद बढ़ रहे है, इसके दृष्टिगत उन्होने समस्त एसडीएम से कहा कि जमीन-विवाद के मामलों में लेखपालों को मौके पर भेजे। उन्होने कहा कि भूमि-विवादों की ग्रामवार सूची बनावान सुनिश्चित करंे। उन्होने कहा कि मोटर साईकिल पर सिर्फ मोटर साईकिल चालक के अलावा अन्य व्यक्ति नही बैठेगा, मोटर साईकिल पर मोटर साईकिल चालक से साथ महिला बैठने पर छूट है। बशर्ते मास्क लगाया जाना अनिवार्य है।
विशेष कार्याधिकारी राजेश कुमार द्वारा सभी अधिकारियों से परिचय प्राप्त किया गया। उन्होने कहा कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत रोकथाम व बचाव हेतु जो भी कार्य किये जा रहे है, उसको डैसबोर्ड पर फीडिंग कराये। इसकी प्रदेश स्तर से मानिटरिंग की जा रही है।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, सीआरओ हरिशंकर, अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त/राजस्व गुरू प्रसाद, सीएमओ डा0 एके मिश्रा, डीएफओ, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, डीडी कृषि आरके मौर्य, सहित समस्त उप जिलाधिकारी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment