.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

कमिश्नर ने क्वारंटाइन सेंटर ,आश्रय स्थलों व ट्रांजिट स्थलों की स्थिति की समीक्षा की

राजकीय मेडिकल कालेज से मरीजों को एल-वन हास्पिटल डेंटल कालेज इटौरा चंडेश्वर में शीघ्र शिफ्ट करें -कनक त्रिपाठी, कमिश्नर  

आजमगढ़: कमिश्नर कनक त्रिपाठी की अध्यक्षता में शनिवार उनके कार्यालय सभागार में बैठक हुई। इस दौरान कोविड-19 के तहत जिले में स्थापित फैसिलिटी क्वारंटाइन सेंटर एवं आश्रय स्थलों व ट्रांजिट स्थलों की स्थिति की समीक्षा की गई।
उन्होंने सीएमओ को निर्देश किया कि डेंटल कालेज इटौरा चंडेश्वर को एल-वन हास्पिटल के रूप में विकसित किया जा चुका है। इसलिए राजकीय मेडिकल कालेज से मरीजों को उसमें शिफ्ट किए जाने में तेजी लाएं। यह भी निर्देश दिया कि एल-वन में बेड आदि की जो भी कमियां हैं, उसे तत्काल दूर करते हुए सभी शिफ्टिग की कार्रवाई रविवार तक अनिवार्य रूप से पूरी कर ली जाए। उन्होंने फैसिलिटी क्वारंटाइन सेंटर एवं आश्रय स्थलों के संबंध में पूरी जानकारी ली। नामित नोडल अधिकारियों को संबंधित जिलों की सूची भी मौके पर उपलब्ध कराया। मंडलायुक्त ने गत दिवस जिलों से सूचनाएं एवं फीडबैक प्राप्त करने के लिए आजमगढ़ के लिए संयुक्त कृषि निदेशक, मऊ उपायुक्त खाद्य एवं रसद और बलिया के लिए संभागीय परिवहन अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित किया है। आजमगढ़ के कतिपय फैसिलिटी क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती संदिग्ध मरीजों से उनके मोबाइल पर स्वयं वार्ता कर व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। नोडल अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रतिदिन अधिक से अधिक मरीजों से वार्ता करें और उन सेंटर के बारे में जानकारी एकत्र कर शाम सात बजे तक वस्तुस्थिति से अवगत कराना सुनिश्चित करें। एडीएम नरेंद्र सिंह व गुरु प्रसाद गुप्ता, सीआरओ हरीशंकर, संयुक्त कृषि निदेशक एसके सिंह, उपायुक्त खाद्य एवं रसद केपी मिश्र, सीएमओ डा. एके मिश्रा भी थे।


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment