.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

पात्र मिले लोगो को 11507 राशन कार्ड जारी किया गया,07 हजार और है -डीएम

सर्वे में चिन्हित किये गये 5000 दिहाड़ी मजदूरों को रू0 1000/- दो दिन में खाते में भेजें-डीएम

आजमग़ढ़- 19 अप्रैल -- कोविड-19 के दृष्टिगत जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में रैपिड सर्वे के अन्तर्गत चिन्हित किये गये दिहाड़ी मजदुर, खाद्यान्न वितरण व मनरेगा के कार्यो को क्रियान्यवन हेतु बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बताया कि जरूरत मन्दलोगो को खाद्यान्न वितरण कराया जा रहा है। इसी के साथ ही 18481 पात्र लाभार्थियों के राशन कार्ड बनाये जाने हेतु आॅनलाइन आवेदन कराया गया है जिसमें से 11507 राशन कार्ड जारी किया गया है। अभी भी जो लगभग 7 हजार राशन कार्ड जारी किये जाने है उसके लिए जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि आपूर्ति निरीक्षकों से समन्वय बनाकर कर शेष राशन कार्ड जारी कराना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही रैपिड सर्वे के अन्तर्गत चिन्हित किये गये दिहाड़ी मजदूरों को रू0 1000/- लगभग 5000 लोगों को दिया जाना अवशेष है उसे भी दो दिन के अन्दर उनके खाते में उक्त धनराशि उपलब्ध कराना सुनिश्चत करें। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजिविका मिशन के अन्तर्गत स्वंय सहायता समूह की महिलओ व मनरेगा जाॅबकार्ड होल्डर जिनके राशन कार्ड नही बना है, उसका राशन कार्ड बनवाना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही ऐसे गरीब व्यक्ति जिसके पास आधार कार्ड नही है व राशन कार्ड नही है, उसको राशन वितरित कराते रहे। जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड विकास अधिकारियो को निर्देश दिए कि 01 मई से राशन वितरण कराये जाने हेतु सोशल डिस्टेन्सिंग का ध्यान रखा जाय व एक दिन मे 40 कार्ड होल्डर को राशन वितरण काराया जाय। कोविड-19 के दृष्टिगत बहुत से लोग शहरों से गांव वापस आये है और मनरेगा में कार्य करना चाहते है तो उन लोगों को जाॅब कार्ड जारी करने के लिए जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियो को निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने बताया कि मनरेगा के अन्तर्गत कन्टेनमेन्ट क्षेत्र के बाहर कार्य कराये जाना है इसके लिए श्रमिकों को कार्यस्थल पर कार्य-माप के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराया जाय व सोशल डिसटेन्सिंग का ध्यान रखा जाय। जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि कार्यस्थल पर कार्यरत श्रमिको द्वारा मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग कराये व सोशल डिसटेन्सिंग का ध्यान रखे। कार्य स्थल पर हाथ धोने हेतु पानी एवं साबुन की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए श्रामिको को जागरूक किया जाये। कार्य स्थल पर ऐसी महिला से कार्य न कराया जाय जिसके पास 5 वर्ष से कम उम्र का बच्चा हो। एवं सर्दी एवं बुखार न हो इसका ध्यान रखा जाय। इस अवसर पर सीडीओ आनन्द कुमार शुक्ला, सीआरओ हरिशंकर, एडीएम एफआर गुरू प्रसाद, पीडी अभिमन्यू सिंह, डीडीओ रविशंकर राय, डीएसओ, डीपीआरओ सहित समस्त खण्ड विकास अधिकारी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment