.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मण्डलायुक्त व डीआईजी ने जरूरतमन्दों को दिया खाद्यान्न,कहा सावधान रहें


कहा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु हर स्तर पर बरतें सावधानी

अधिकारियों ने शेल्टर होम तथा गेहूॅं क्रय केन्द्र का किया औचक निरीक्षण 

आज़मगढ़ 24 अप्रैल -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी तथा डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने लाकडाउन में जरूरतमन्दों को खाद्य सामग्री की समस्या से बचाये रखने के दृष्टिगत शुक्रवार को सदर तहसील सदर के अन्तर्गत ग्राम सेठवल स्थित राजेन्द्र स्मारक इण्टर मीडिएट कालेज में 51 लोगों को खाद्य सामग्री का पैकेट उपलब्ध कराया। खाद्य सामग्री वितरण के दौरान कई लाभार्थियों द्वारा मास्क नहीं लगाया गया था। इस पर मण्डलायुक्त ने उन सभी से कहा कि कोरोना वायरस की महामारी के संक्रमण से सुरक्षित रहने के लिए जरूरी है कि हर स्तर पर सावधानी बरती जाये, ऐसी विषम परिस्थिति में किसी प्रकार की गफलत में रहना या जोखिम लेना प्राणधातक सिद्ध होने के साथ ही पूरे समाज में अस्थिरता का कारण बन सकता है। उन्होंने उपस्थित सभी लोगों को हर हालत में सामाजिक दूरी बनाये रखने के साथ ही विशेषज्ञों द्वारा दी जा रही सलाह और सुझावों का शत प्रतिशत अनुपालन करने हेतु प्रेरित भी किया। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने बताया कि जो खाद्य सामग्री का पैकेट जरूरतमन्दों को दिया जा रहा है उसमें 10-10 किग्रा आटा व चावल, 2 किग्रा दाल, एक लीटर सरसों का तेल, 4 किग्रा आलू, 1 किग्रा प्याज, 1-1 पैकेट हल्दी व मसाला है जो कुछ सप्ताह के लिए पर्याप्त होगा। उन्होंने उपस्थित लोगों से कहा कि यदि और लोग भी जरूरतमन्द हैं तो लेखपाल, ग्राम पंचायत अधिकारी या सम्बन्धित थाने को सूचित करें। श्रीमती त्रिपाठी ने कहा कि हर व्यक्ति तक खाद्य सामग्री पहुंचाने हेतु प्रशासन दिन रात सक्रिय है, खाद्यान्न वितरण में अनियमितता की फूलप्रूफ शिकायत मिलने पर अब तक कई कार्यवाही की जा चुकी है तथा भविष्य में भी ऐसी शिकायत मिलने पर सम्बन्धित के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने भी लोगों से कहा है कि यदि कहीं भी घटतौली, जमाखोरी, ओवर रेटिंग की जा रही है तो उसके सम्बन्ध में लिखित शिकायत व्हाट्सएप, फैक्स या अन्य माध्यमों से करें तुरन्त ऐक्शन लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि घटतौली, जमाखोरी, ओवर रेटिंग आदि करने वालों के विरुद्ध न केवल आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी, बल्कि ऐसा करने वालों पर एनएसए के तहत भी कार्यवाही की जायेगी। मण्डलायुक्त व डीआईजी ने खाद्य सामग्री वितरण के उपरान्त राजकीय खाद्य गोदाम रानी की सराय पर बने गेहूॅं क्रय केन्द्र का भी औचाक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय अब तक हुई खरीद, लक्ष्य, क्रय की प्रक्रिया सहित अन्य सभी बिन्दुओं का विस्तार से जायजा लिया। स्थिति सन्तोषजनक पाई गयी। तदुपरान्त अधिकारीद्वय ने कोरोना संदिग्धों को क्वरेन्टाइन करने हेतु आज़मगढ़ पब्लिक स्कूल में बनाये गये शेल्टर होम का भी औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय बताया गया कि फिलहाल इसमें 35 लोगों को क्वरेन्टाइन किया गया है। दोनों अधिकारियों ने क्वरेन्टाइन किये गये लोगों से खान पान, स्वास्थ्य परीक्षण आदि के बारे में पूरी जानकारी ली। इस अवसर पर अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, संभागीय खाद्य नियन्त्रक राजेश कुमार, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) नरेन्द्र सिंह, उप जिलाधिकारी सदर रावेन्द्र सिंह, तहसीलदार सदर पवन कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment