.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ :परियोजनाओं की राशि लंबित रखने पर जेई डीआरडीए के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति

पूर्व सांसद नीलम सोनकर के प्रस्ताव पर स्वीकृत 04 परियोजनाओं की दूसरी किस्त लंबित रखने से नाराज हुए डीएम 

धन कार्यदायी संस्था यूपी सिडको आजमगढ़ के पक्ष में जारी कराने में एक वर्ष, तीन माह का विलंब किया गया

आजमगढ़ : डीएम नागेंद्र प्रसाद सिंह ने समीक्षा के दौरान सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास निधि योजना के अंतर्गत लोकसभा क्षेत्र लालगंज की पूर्व सांसद नीलम सोनकर के प्रस्ताव पर स्वीकृत चार परियोजनाओं की दूसरी किस्त लंबित रखने को गंभीरता से लिया है। डीआरडीए के दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। डीएम ने पीडी डीआरडीए अभिमन्यु से जांच कराई, जिसमें अशोक कुमार तिवारी जेई डीआरडीए, एनबी सिंह सहायक अभियंता और रामप्रताप मौर्य पटल सहायक डीआरडीए प्रथम दृष्टया दोषी पाए गए। प्रकरण में दोषी पाए गए जेई डीआरडीए के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए आयुक्त ग्राम्य विकास उत्तर प्रदेश को प्रस्ताव भेजा गया, जबकि सहायक अभियंता डीआरडीए से स्पष्टीकरण तलब किया गया। पटल सहायक डीआरडीए के विरुद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि जारी करने के लिए सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला को निर्देश दिए। पूर्व सांसद की स्वीकृत चार परियोजनाओं में ग्राम गहजी ब्लाक अहरौला में नहर पुलिया से राम विजय के घर तक सीसी रोड, ग्राम रैसिंहपुर ब्लाक तहबरपुर में निषाद बस्ती से यादव बस्ती होते हुए रामअवतार विश्वकर्मा के घर तक सीसी रोड, ग्राम ककरही ब्लाक कोयलसा में प्राथमिक विद्यालय से अनुसूचित जाति बस्ती तक सीसी रोड और ग्राम लहरपार ब्लॉक कोयलसा में राधेश्याम के घर से विनोद सिंह के घर तक सीसी रोड शामिल है। इस संबंध में द्वितीय किस्त की धनराशि कार्यदायी संस्था यूपी सिडको आजमगढ़ के पक्ष में जारी कराने में एक वर्ष, तीन माह का विलंब किया गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment