.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ : लेखपाल भाईयों के साथ ऊसर,बंजर जमीन पर कब्जा कर रहा था,निलंबित हुआ

मण्डलायुक्त के निर्देश पर लेखपाल निलम्बित, सभी दोषियों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज 

आज़मगढ़ 2 मार्च -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी के निर्देश पर तहसील सगड़ी में तैनात एक लेखपाल एवं उनके भाइयों द्वारा कब्जा किये जाने की शिकायत की जाॅंच में शिकायत सही पाये जाने पर सम्बन्धित लेखपाल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। इसके साथ ही उक्त लेखपाल सहित उनके दो भाईयों तथा दो अन्य लोगों को मामले में समान रूप से संलिप्त पाये जाने पर सभी के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत एफआईआर भी दर्ज करा दी गयी है। उल्लेखनीय है कि जनपद की तहसील लालगंज के अन्तर्गत ग्राम चिल्लूपुर के ग्राम प्रधान बृजमोहन सिंह ने विगत दिनों मण्डलायुक्त के समक्ष इस आशय का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था कि उनके गांव चिल्लूपुर में तीन आराजी जिनका रकबा क्रमशः 0.033 हेक्टेअर, 0.777 हेक्टेअर एवं 0.805 हेक्टेअर है जो गांव सभा की सम्पत्ति है। उक्त आराजी को पूर्ववर्ती लेखपाल चन्द्रमणि ने कूटरचना करके अपने नाम करा लिया गया था। ग्राम प्रधान ने यह भी बताया कि उक्त फर्जी इन्द्राज को पूर्व में सक्षम स्तर से निरस्त कर इसका अमलदरामद राजकीय अभिलेखों में  करा दिया गया था। उन्होंने यह भी बताया कि फर्जी इन्द्राज करने वाले लेखपाल की मृत्यु हो जाने के बाद उनके पुत्र विजय कुमार जो तहसील सगड़ी में लेखपाल हैं तथा उनके भाईयों ने कई बार उस भूमि पर कब्जे का प्रयास किया परन्तु तहसील अधिकारियों के हस्ताक्षेप के कारण वह ऐसा नहीं कर पाये। ग्राम प्रधान ने यह भी बताया था कि साजिश के तहत उक्त लेखपाल ने राजस्व परिषद से स्थगन आदेश प्राप्त किया था जिसकी अवधि भी समाप्त हो चुकी है तथा वर्तमान में उक्त मामले में कोई स्थगन आदेश पारित नहीं है।
मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने प्रकरण की संवेदनशीलता को देखते हुए मामले की गहन जाॅंच की जिम्मेदारी उपजिलाधिकारी सगड़ी को सौंपी। उपजिलाधिकारी प्रियंका ने अपनी आख्या में मण्डलायुक्त को अवगत कराया कि उक्त तीनों आराजियात जो ग्रामसभा की अभिरक्षा में है उस पर विजय कुमार, राजकुमार, राहुल कुमार पुत्रगण चन्द्रमणि व नीरज कुमार, धीरज कुमार पुत्रगण अजय कुमार निवासी ग्राम मकबूलपुर उर्फ रामनगर, तहसील लालगंज के द्वारा अनाधिकृत रूप से कब्जा किया जा रहा था, जिसे तत्काल रोकने हेतु तहसीलदार लालगंज को निर्देशित किया गया। दिये गये निर्देश के क्रम में तहसीलदार लालगंज ने सम्बन्धित राजस्व निरीक्षक के माध्यम से सभी दोषियों के विरुद्ध लोक सम्पत्ति क्षति निवपारण अधिनियम की सुसंगत धाराओं में एफआईआर दर्ज करा दी गयी है। उपजिलाधिकारी सगड़ी ने अपनी आख्या में स्पष्ट किया कि इस मामलें में पूर्णतया संलिप्त विजय कुमार तहसील सगड़ी में लेखपाल के पद पर कार्यरत हैं, जिन्हें तत्काल प्रभाव से निलम्बित भी कर दिया गया है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment