.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : भाजपा में भी अब वर्चस्व की लड़ाई, कार्यक्रम में कार्यकर्ता पर हमला हो गया

भाजपा युवा मोर्चा द्वारा शनिवार को नेहरू हाल में संगोष्ठी का कार्यक्रम आयोजित था, हो गया बवाल 

आजमगढ़ : अनुशासित कहीं जाने वाली भाजपा में भी अब वर्चस्व की लड़ाई दिखनी शुरू हो गई है। शनिवार को युवा मोर्चा द्वारा नेहरू हाल में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष की मौजूदगी में ही कुछ लोगों ने एक कार्यकर्ता पर हमला बोल दिया और मारपीट कर सिर फोड़ दिया। घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से भाग खड़े हुए, उन्हें पकड़ने के बजाय घायल कार्यकर्ता को ही कार्यक्रम स्थल से हटाने में पदाधिकारी व कार्यकर्ता जुटे नजर आये। भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा द्वारा शनिवार को नेहरू हाल में संगोष्ठी का कार्यक्रम आयोजित था। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष युवा मोर्चा सुभाष यदुवंशी भी आये हुए थे। कार्यक्रम के दौरान ही युवा मोर्चा जिला कार्यकारिणी सदस्य उज्जवल राय प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष अपनी बात रख रहे थे ।
इसी दौरान जिला कार्यकारिणी के एक पदाधिकारी चंद्रपाल सिंह व उनके कुछ समर्थकों ने उज्जवल पर हमला बोल दिया। आरोप है की कार्यक्रम के दौरान ही उज्जवल की पिटायी की गई, जिसमे उसका सिर भी फूट गया। इसके बाद हमलावर मौके से पैदल ही दौड़ते हुए भाग निकले। हमलावरों को पकड़ने के बजाय पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता घायल उज्जवल को ही कार्यक्रम स्थल से हटाने में जुटे नजर आये। उनका आरोप है कि जिला उपाध्यक्ष युवा मोर्चा चंद्रपाल सिंह व उनके लोगों ने हमला किया है। ये लोग पीएम मोदी के जिले में आयोजित पिछले कार्यक्रम से ही उसे निशाने पर लिये हुए है। मोदी के कार्यक्रम में फोटो खींचने को लेकर कुछ विवाद हुआ था तब से ही आये दिन धमकी भी दी जा रही थी। पार्टी में शिकायत के बाद भी चंदपाल सिंह पर कार्रवाई नहीं हुई। नई कार्यकारिणी में भी उन्हें स्थान दे दिया गया। मैं भी कार्यकारिणी में बतौर सदस्य शामिल हूं। किसी बाहरी ने नहीं बल्कि पार्टी के लोगों ने ही मुझ पर हमला किया है। कार्यक्रम को देखते हुए शहर कोतवाल केके गुप्ता भी मयदल बल कार्यक्रम स्थल व आसपास मोर्चा संभाले हुए थे। कोतवाल स्वयं कुछ दूरी पर खड़े अपने वाहन में बैठे थे। कोतवाल के सामने ही हमलावर भागे लेकिन न तो कोतवाल न ही कोई पुलिस कर्मी ही उन्हें दौड़ा कर पकड़ने का प्रयास किया। कोतवाल तो सिर्फ पीटे गये कार्यकर्ता को मौके से हटाने में लगे रहे और जबरन उसे अपने जीप में बैठा कर मौके से हटा दिया। वहीँ भाजपा के जिम्मेदार नेता भी दोनों पक्षों से पल्ला झाड़ते नजर आये। मामले में शहर कोतवाल के के गुप्ता ने कहा की वहां कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गये थे। घायल को इलाज के लिए मैने अपने वाहन से ही अस्पताल भेज दिया। अब यदि वह तहरीर देगा तो मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल कोई तहरीर नहीं मिली है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment