.

.

.

.

.

.

.

.
.

जी.डी.ग्लोबल स्कूल :छात्र-छात्राओं को साइबर अपराध से सुरक्षित रखनेे हेतु कार्यशाला का आयोजन



थोड़ी सी चूक से हो सकता है साइबर क्राइम - अमित दूबे, लेखक एवं साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ 

साइबर क्राइम से सम्बधिंत कानून एवं सभी साइबर अपराधों से जुडे़ हुए नियमों की जानकारी रखें - खुशबू जैन, अधिवक्ता सर्वोच्च न्यायालय
आजमगढ़। करतालपुर स्थित जी.डी.ग्लोबल स्कूल की ओर से छात्र-छात्राओं को साइबर अपराध से सुरक्षित रखनेे हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का प्रारम्भ मुख्य अतिथि श्री सुभाष चन्द्र दूबे (डी.आई.जी. आजमगढ़ मण्डल), विशिष्ट अतिथि प्रो. त्रिवेणी सिंह, पुलिस सुपरिटेंडेंट आजमगढ़, श्री अमित दूबे (साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ), खुशबू जैन(अधिवक्ता सर्वोच्च न्यायालय), विद्यालय की निदेशिका श्रीमती स्वाति अग्रवाल, प्रबंधक श्री गौरव अग्रवाल, प्रधानाचार्य श्री विधान तिवारी के साथ दीप प्रज्ज्वलन से हुआ।
कार्यशाला में साइबर सुरक्षा के सुप्रसिद्ध विशेषज्ञ श्री अमित दूबे, सर्वोच्च न्यायालय की अधिवक्ता खुशबू जैन ने साइबर अपराध से सम्बधिंत अनेक जानकारियों को साझा किया। विशेषज्ञ अमित दूबे ने विभिन्न ऑनलाइन गेम्स से होने वाले होने वाले नुकसान को भी बताया। उन्होनें यह भी बताया कि सोशल मीडिया का प्रयोग करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है, तकनीकि से विस्तृत जानकारी प्राप्त की जा सकती है, परन्तु उसका गलत प्रयोग करके साइबर अपराध दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है और इस प्रकार के अपराध में अधिकांशतः किशोरवर्ग के छात्र-छात्राएँ शामिल है। वर्तमान में पासवर्ड, ओ0टी0पी0 हैकिंग की घटनाएं बढ़ती जा रही है। उन्होनें कहा कि इंटरनेट, फेसबुक, इन्टाग्राम, व्हाट्सअप्प आदि का प्रयोग करते समय अनुशासन का ध्यान रखने की सलाह देते हुए बताया कि आज की पीढ़ी सहजता से साइबर अपराध की ओर आकर्षित होती जा रही है, इसलिए यदि कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखकर इनका प्रयोग किया जाए तो सुरक्षित रहा जा सकता है। कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने अपनी जिज्ञासाओं को शांत करने हेतु कुछ प्रश्न भी पूछे।
इसी क्रम में खुशबू जैन (अधिवक्ता सर्वोच्च न्यायालय)ने विद्यार्थियों को साइबर क्राइम से सम्बधिंत कानून(एक्ट), धारा एवं अन्य सभी साइबर अपराधों से जुडे़ हुए नियमों के बारे में बताया और साइबर अपराध करने से बचने के लिए सुरक्षा उपायों को भी बताया।
विद्यालय के प्रधानाचार्य ने बताया कि यह कार्यक्रम दो सत्र में आयोजित किया गया जिसमें प्रथम सत्र में विद्यालय के छात्र/छात्राओं के साथ तथा द्वितीय सत्र जिले के गहनीय चिकित्साधिकारियों के मध्य साझा किया गया जिसमें आई.एम.ए. के अध्यक्ष डाॅ. डी.पी.राय, सचिव डाॅ मोहम्मद खालिद, डाॅ पंकज जायसवाल, डाॅ. जावेद अख्तर के सानिध्य में संपन हुआ जिसमें डाॅ स्वस्ति सिंह, डाॅ विनय यादव, डाॅ सुभाष सिंह आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री विधान तिवारी ने कार्यशाला में आए हुए साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि डाटा सिक्योरिटी बहुत जरुरी है। उन्होनें छात्र/छात्राओं को इंटरनेट और इलेक्ट्रानिक मीडिया का सावधानी से उपयोग करने की सलाह दी। विद्यालय की इस कार्यशाला मंे उप-प्रधानाचार्या श्रीमती मधु पाठक, प्राध्यापिका श्रीमती सपना सिंह सहित समस्त शिक्षकगण उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment