.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मण्डलायुक्त ने किया शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता के बिन्दुओं की समीक्षा

मण्डल की रैंकिंग में और सुधार लाने का हो निरन्तर प्रयास - श्रीमती कनक त्रिपाठी,मंडलायुक्त , आजमगढ़ 

आज़मगढ़ 17 फरवरी -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने कहा है कि शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की निरन्तर मानीटरिंग करते हुए मण्डल की रैंकिंग में और सुधार लाया जाय। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी सोमवार को अपने कार्यालय के सभागार में, प्रदेश के मुख्य सचिव द्वारा पाक्षिक रूप से की जाने वाली वीडियो कान्फ्रेन्सिंग से सम्बन्धित सभी बिन्दुओं की समीक्षा कर रही थीं। गोवंश आश्रय स्थलों की समीक्षा के दौरान अपर निदेशक पशुपालन ने अवगत कराया गया कि एक पक्ष में मण्डल के अन्तर्गत कुल 73 पशु संरक्षित किये गये हैं, जिसमें आज़मगढ़ में 39, मऊ में 29 एवं बलिया में 5 पशु सम्मिलित हैं। यह भी अवगत कराया गया कि मण्डल के तीनों जनपदों में वर्ष 2018-19 के वृहद गोसंरक्षण केन्द्र पूर्ण हो गये हैं जिसमें पशुओं को संरक्षित किया जा रहा है तथा जनपद मऊ एवं बलिया में वर्ष 2019-20 के गो संरक्षण केन्द्रों का निर्माण कार्य प्रारम्भ हो गया है जो अप्रैल माह में पूर्ण होना संभावित है। गन्ना मूल्य भुगतान के सम्बन्ध में अवगत कराया गया कि आज़मगढ़ में 57.86 प्रतिशत, मऊ में 34.56 प्रतिशत एवं बलिया में 49 प्रतिशत भुगतान हो गया है, धनराशि प्राप्त होते ही शेष भुगतान कर दिया जायेगा। मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि गन्ना मूल्य भुगतान की धनराशि प्राप्त करने हेतु निरन्तर सम्पर्क बनाये रखें तथा सुनिश्चित किया जाये कि किसानों को भुगतान प्राप्त करने हेतु अनावश्यक रूप से भाग दौड़ करने जरूरत न पड़े। प्रधानमन्त्री आवास योजना शहरी के सम्बन्ध में बतया गया कि मार्च 2020 तक निर्धारित लक्ष्य आज़मगढ़ में 5690 के सापेक्ष 8486 जीईओ टैगिंग 5839 आवासों की प्रथम किस्त, 5382 आवासों की द्वितीय किस्त तथा 2824 लाभार्थियों को तृतीय किस्त दी जा चुकी है। जनपद में 8351 के सापेक्ष 11210 जीईओ टैगिंग, 8970 को प्रथम किस्त,7831 को द्वितीय किस्त तथा 2707 लाभार्थियों को तृतीय किस्त निर्गत की गयी है। इसी प्रकार जनपद बलिया निर्धारित लक्ष्य 11304 के सापेक्ष 12428 जीईओ टैगिंग, 11304 लाभार्थियों को प्रथम किस्त, 8685 को द्वितीय किस्त की धनराशि दी गयी है। कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा में उप निदेशक, महिला कल्याण द्वारा बताया गया कि आज़मगढ़ में 8581, मऊ में 2847 एवं 11553 आॅफलाइन आवेदन पत्र लम्बित हैं, जिसका सत्यापन हो चुका है। उन्होंने यह भी बताया कि वेबसाइट में आ रही दिक्कतों के कारण अपेक्षित गति से आवेदन अपलोड नहीं हो पा रहे हैं। इस पर मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने निर्देश दिया कि प्रयास करके अतिरिक्त समय में अपलोडिंग की कार्यवाही करायें। समीक्षा में आईजीआरएस, किसान सम्मान योजना, श्रम योगी मानधन योजना, आरसी वसूली, परीक्षा की तैयारी, जन आरोग्य मेला सहित अन्य बिन्दुओं पर भी विस्तार से समीक्षा की गयी। मण्डलायुक्त ने उपस्थित मण्डलीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि लक्ष्य के सापेक्ष कार्यों में अपेक्षित प्रगति लाने हेतु अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित कार्यों की निरन्तर मानीटरिंग करते रहें। उन्होंने यह भी कहा कि जहाॅं दिक्कतें हों उसे तत्काल उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लायें ताकि समय से उसका निराकरण किया जा सके।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) आज़मगढ़ जीपी गुप्ता, मुख्य राजस्व अधिकारी हरी शंकर, उप निदेशक महिला कल्याण ओंकारनाथ यादव, संयुक्त कृषि निदेशक एसके सिंह, उप श्रमायुक्त रोशनलाल सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के मण्डलीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment