.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ :खेलो इण्डिया में बैडमिन्टन खेल में कांस्य पदक विजेता सोनाली का हुआ भव्य स्वागत

जिला प्रशासन एवं जिला बैडमिन्टन संघ ने आजमगढ़ के गम्भीरवन निवासिनी सोनाली सिंह का किया सम्मान 

बेटियाॅ अपने परिवार की मान व सम्मान हैं, लज्जा नही - नागेंद्र प्रताप सिंह , डीएम 

 आजमगढ़ 13 फरवरी-- जिला प्रशासन आजमगढ़ एवं जिला बैडमिन्टन संघ आजमगढ़ के संयुक्त तत्वाधान में खेलो इण्डिया 2020 बैडमिन्टन खेल में जनपद के गम्भीरवन निवासी बालिकाओं की प्रेरणा श्रोत सोनाली सिंह कांस्य पदक विजेता होने के पश्चात जनपद आगमन पर सम्मान समारोह नेरूह हाल आजमगढ़ में किया गया। जनपद के गम्भीरवन निवासी सुनिल सिंह की सुपुत्री सोनाली सिंह ने गुवाहाटी आसाम में सम्पन्न हुई खेलो इण्डिया यूथ गेम 2020 में बैडमिण्टन खेल में कांस्य पदक प्राप्त कर हम सभी को गौरवान्वित किया। सम्मान समारोह में जिला खेल प्रोत्साहन समिति अध्यक्ष/जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा सोनाली सिंह को स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र, प्रमाण पत्र व पगड़ी पहनाकर तथा 25000 रू0 नकद देकर सम्मानित किया गया। इसी के साथ ही जिला बैडमिण्टन एसोसिएशन की तरफ से डाॅ0 डीपी राय व डाॅ0 पीयूष यादव द्वारा 25000 रू0 नकद देकर सम्मानित किया गया। शेख अब्दुल्ला नेशनल इण्डस्ट्री बिन्द्रा बाजार द्वारा 15000 रू0, परियोजना अभियन्ता यूपी आरएनएसएस मनोज कुमार यादव द्वारा 11000 रू0, अजय कुमार सिंह डब्बू गम्भीरवन द्वारा 10000 रू0 नकद देकर सम्मानित किया गया।
सम्मान समारोह में जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि सोनाली सिंह ने आजमगढ़ व देश का नाम रोशन किया और सभी बच्चियों के लिए प्रेरणा श्रोत है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सोनाली सिंह को बधाई हो आपको बिटिया हुई है अभियान व मतदाता जागरूकता अभियान की ब्राण्ड एम्बेसडर बनाने की भी घोषणा की। जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि खिलाड़ी का एक-एक क्षण महत्वपूर्ण होता है, उनके लिए तपस्या साधना होती है। जब बच्चे को शिल्प करने में पूरा परिवार जुड़ता है तो बच्चों की प्रतिभा निखर कर सामने आती है, लड़कियों को शिल्प करने में भी हम सभी को आगे आने की जरूरत है। उन्होने कहा कि जिनके पास हौसला होता है, वह अपना मुकाम स्वयं बना सकते हैं। खिलाड़ियों का सम्मान होने पर खिलाड़ियों को और बड़ी चुनौती मिलती है। उन्होने कहा कि सोनाली सिंह को बैडमिण्डन खिलाड़ी पीवी सिन्धु व साइना नेहवाल के रूप में आना चाहिए। हम लोगों को अपनी बेटियों को बोझ नही समझना चाहिए, बल्कि बेटियाॅ अपने परिवार की मान व सम्मान हैं, लज्जा नही। उन्होने कहा कि बेटियाॅ ही हम सबको बचायेंगी, यदि बेटी नही रहेगी तो पीढ़ी समाप्त हो जायेगी। जिलाधिकारी ने जनपद के प्रबुद्ध/गणमान्य व्यक्तियों से कहा कि जिन बच्चों में प्रतिभा छुपी हुई है, उसको निखारें और उसका सहयोग करें, इससे आत्मा को शांति भी मिलती है। इसी के साथ ही सोनाली सिंह ने अपना अनुभव बताया, उन्होने लड़कियों से कहा कि हिम्मत रखने से रास्ते अपने आप खुलकर सामने आते हैं, इसलिए अपने जीवन में लक्ष्य बनाकर कड़ी मेहनत कर अच्छे मुकाम पर पहुॅचकर अपने परिवार, जनपद, प्रदेश व देश का नाम रोशन करें। कार्यक्रम का संचालन रंगकर्मी सुनीलदत्त विश्वकर्मा द्वारा किया गया। डाॅ0 पीयूष यादव द्वारा सभी के प्रति धन्यवाद व आभार व्यक्त किया गया।
इस अवसर पर जिला युवा कल्याण अधिकारी राजनेति सिंह, उप क्रीड़ा अधिकारी राजनरायण प्रसाद, जिला ओलंपिक संघ के सचिव अजेन्द्र राय, नेशनल इण्डस्ट्री के शेख अब्दुल्ला, सोनाली सिंह के पिता सुनील सिंह व माता श्रीमती रीता सिंह, विजय सिंह, पुनीत राय, उमेश सिंह, पूर्वांचल विकास आन्दोलन के प्रवीण सिंह, कल्पनाथ सिंह, शैलेष राय, सुरेश शर्मा, विरेन्द्र प्रताप यादव, चन्द्रभान सिंह, क्रीड़ा सचिव दिनेश सिंह, अनिल राय, सत्येन्द्र उपाध्याय, पवन पाण्डेय, अजय मौर्य, प्रभुनारायण पाण्डेय उर्फ प्रेमी जी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment