.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ के पते पर फर्जी कागजात के जरिए पासपोर्ट बनवाते पकड़ा गया अफगानी युवक

निवासी के तौर पर दर्ज कराया था आजमगढ़ के फूलपुर क्षेत्र का पता, 02 मकान मालिक हिरासत में  

आजमगढ़ : वाराणसी के पासपोर्ट कार्यालय में शुक्रवार को अफगानिस्तान का एक युवक फर्जी कागजात के जरिए पासपोर्ट बनवाते पकड़ा गया। वह आजमगढ़ के फूलपुर क्षेत्र के पते पर पासपोर्ट के लिए कागजातों का सत्यापन कराने पहुंचा था। उसे हिरासत में लेकर आईबी, एटीएस और पुलिस की टीम उससे पूछताछ कर रही है। युवक ने बताया कि उसका अफगान का पासपोर्ट व वीजा आजमगढ़ स्थित उसके दोस्त के घर पर है। इसकी जांच के लिए पुलिस टीम आजमगढ़ पंहुची है। सूत्रों के अनुसार उसे आज़मगढ़ के फूलपुर क्षेत्र में बतौर किरायेदार शरण देने वाले दो मकान मालिकों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। फिलहाल आजमगढ़ में हुई कार्यवाही की कोई पुष्टि नहीं हो पाई है।
वाराणसी से मिली जानकारी के अनुसार अफगानी नागरिक इबादतुल्लाह उर्फ आबिद (40 वर्ष) ने आजमगढ़ के फूलपुर के पते से मोहम्मद जावेद के नाम से पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था। जिस पते से आवेदन किया गया था, उसकी प्रामाणिकता के लिए आधार कार्ड और वोटर आईडी संलग्न किया गया था। सत्यापन के लिए फॉर्म पर अंकित दो मोबाइल नंबर के जरिए पासपोर्ट दफ्तर से उसके पास शुक्रवार को वेरिफिकेशन कराने के लिए संदेश गया था। उस आधार पर युवक वहां पंहुचा था। पासपोर्ट दफ्तर में आशंका होने पर उसे प्रभारी के पास भेजा गया। जहाँ प्रभारी से वह न हिन्दी में बोल पाया, ना ही अंग्रेजी में। इस पर कर्मचारियों ने उसे पुलिस को सौंप दिया। आईबी अफसरों ने अफगानी नागरिक के बताए पते की पुष्टि व अन्य जानकारी के लिए दूतावास से संपर्क किया है।
सुरक्षा एजेंसियों के हवाले से सूचना है की फर्जी दस्तावेजों पर पासपोर्ट बनवाते समय पकड़े गए अफगानी युवक से पूछताछ में पता चला कि उसका आजमगढ़ के पते पर आधार व वोटर कार्ड बनवाया गया है। वह भारत किसलिए आया है, किनके जरिये लाया गया है, इसकी जांच में एजेंसियां जुटी हैं। उधर, पासपोर्ट कार्यालय में पहले युवक की फोटो ली गई। इसके बाद अंगूठे और आंख के निशान लिए गए। इसके अभिलेखों को देखा गया। तीसरे स्टेज की जांच शुरू की गई। यहां कर्मचारियों को संदेह हुआ। आधार कार्ड और जांच के समय लिये गये आईबाल व थंब इंप्रेशन अलग-अलग मिलने पर उसे प्रभारी के पास भेजा गया।
युवक को जब पासपोर्ट दफ्तर में प्रभारी के पास भेजा गया तो वहां उससे हिन्दी में बातचीत की गई। जब नहीं बोला तो अंग्रेजी में बातचीत शुरू की। इस पर भी वह इधर-उधर देखने लगा। बातचीत के दौरान ही उसने अफगानिस्तान का नाम लिया। इसकी पूरी वीडियो भी पासपोर्ट दफ्तर से पुलिस को दी गई।
बताया जा रहा है कि युवक के साथ कोई और था। जब पुलिस पहुंची और उसे हिरासत में लिया गया तो कार्यालय के बाहर खड़ा उसके साथ आया युवक भाग निकला। यहां की जांच टीम आजमगढ़ पुलिस की मदद से उसकी तलाश कर रही है। वहीँ सूचना है की वह आजमगढ़ के फूलपुर क्षेत्र में शबाना मार्ग के पास निवास कर रहा था , वह पहले जिस मकान में किराए पर रहता था और इधर पिछले एक सप्ताह से जिस नए मकान में रह रहा था सभी मकान मालिक पुलिस हिरासत में हैं। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment