.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ: विधायक अरुणकांत के गुर्गो ने ढहाया दीवार,कब्जा करने का आरोप

भूमि कब्जा करने को लेकर गांव में तनाव,विवादित भूमि का न्यायालय में चल रहा मामला, फोर्स तैनात

विधायक ने कहा सच सामने आ गया मेरा कोई लेना देना नही,तहसीलदार ने कहा ग्राम सभा की है भूमि

आजमगढ। जनपद के फूलपुर-पवई विधानसभा के भाजपा विधायक के गुर्गों द्वारा शाहगंज-आजमगढ़ रोड से सटे सुदनीपुर गांव में विवादित भूमि पर बने अर्धनिर्मित मकान को रात में जेसीबी से जाये का आरोप है। साथ ही यह भी आरोप है कि दीवाल की ईंट को उठाए ले गये। जिसे लेकर तनाव पैदा हो गया। सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस के पहुचने पर कब्जा करने वाले मौके से भाग गए। कोतवाली के महज 200 मीटर दूरी पर सुदनीपुर गाँव स्थित आराजी नम्बर 481 सरकारी कागजात में बंजर के खाते में दर्ज है। इसी भूमि पर वर्षो पूर्व डिग्री कालेज बनाने का प्रस्ताव था। जिस पर डिग्री कालेज का नाम दर्ज कर दिया गया। जब डिग्री कालेज न बन सका तो तत्कालीन जिलाधिकारी ने उक्त भूमि को पुनः नवीन परती के खाते में दर्ज कर दिया जो वर्तमान में खंडहर के रूप में है। इसके आंशिक भाग पर अशोक सिह पुत्र राजाराम सिह सुदनीपुर और अंजर पुत्र मोतीन अहमद के बीच दीवानी न्यायालय में मुकदमा विचाराधीन है जिस पर अंजर पुत्र मोतीन के पक्ष में स्थगन आदेश भी प्राप्त है। । उसी भूमि पर बिद्यालय के निर्माण के समय गोरखनाथ पाण्डे कनेरी थाना फुलपुर का नाम कही किसी अभिलेख में था। उसी गोरखनाथ पाण्डे के पक्ष में वर्तमान विधायक भी मौजूद रहे। कब्जा और दीवाल गिरने की सूचना पर मुकदमा लड़ने वाले दोनो पक्ष ने थाना कोतवाली में शाम को अज्ञात जेसीबी से दीवाल गिराने का प्रार्थना पत्र दे दिया था। सुबह पुनः अंजर पुत्र मोतीन ने थाना कोतवाली पर प्रार्थना पत्र दिया कि उस भूभाग पर स्थगन आदेश है । और अरुण कान्त यादव पुत्र रमाकान्त यादव सरावा अम्बारी थाना दीदारगंज विवादित भूमि की दीवाल गिराने लगे है मकान दीवाल गिराए जाने से रोका जाय। थाना कोतवाली में प्रार्थना पत्र पर कोतवाली प्रभारी केके गुप्ता भारी पुलिस बल के साथ ओर राजस्व टीम के साथ नायब तहसीलदार पंकज साही मौके पर पहुच दीवाल गिराने से रोक दिया । मौके से विधायक तहसील मुख्यालय पहुचे जहा तहसीलदार नवीन प्रसाद के सामने सभी पक्षो ने अपने कागजात प्रस्तुत किया। कागजात प्रस्तुति के बाद तहसीलदार फुलपुर नवीन प्रसाद ने बताया भूमि ग्राम सभा की है सरकारी टीम बनाकर स्थलीय सत्यापन कराएंगे। उसी भूभाग पर सभी पक्ष मुकदमा लड़ रहे है। अब स्थलीय सत्यापन के बाद ही सत्यता सामने आएगी। अभी कोई पक्ष मौके पर कोई कार्य नही करेगा। इस सम्बंध में विधायक अरुण कान्त यादव ने बताया की मैं न्याय दिलाने के लिए पाण्डे परिवार के साथ था सच की जानकारी करनी थी सच सामने आ गया। मेरा बाकी कोई लेना देना नही है। कब्जा करने और दीवाल गिरने की सूचना पर मुकदमा लड़ने वाले दोनो पक्ष थाना कोतवाली में बीती रात अज्ञात जेसीबी से दीवाल गिराने का प्रार्थना पत्र दिया। गुरुवार की सुबह पुनः अंजर पुत्र मोतीन ने थाना कोतवाली पर प्रार्थना पत्र दिया कि उस भूभाग पर स्थगन आदेश है। जिस पर भाजपा विधायक अपने साथियों के साथ कब्जा कर रहे है। कोतवाली में प्रार्थना पत्र मिलने पर कोतवाली प्रभारी केके गुप्ता भारी पुलिस बल के साथ और राजस्व टीम के साथ नायब तहसीलदार पंकज शाही मौके पर पहुच दीवाल गिराने से रोक दिया। भाजपा विधायक तहसील मुख्यालय पर पहुच कर जहा तहसीलदार नवीन प्रसाद के सामने सभी पक्षो ने अपने कागजात प्रस्तुत किया। तहसीलदार नवीन प्रसाद ने बताया की विवादित भूमि ग्राम सभा की है जिसे टीम बनाकर स्थलीय सत्यापन कराया जाएगा। अब स्थलीय सत्यापन के बाद ही सत्यता सामने आएगी।अभी कोई पक्ष मौके पर कोई कार्य नही करेगा। इस सम्बंध में विधायक अरुण कान्त यादव ने बताया की मैं न्याय दिलाने के लिए पाण्डे परिवार के साथ था सच की जानकारी करनी थी सच सामने आ गया। मेरा उक्त भूमि से कोई लेना देना नही है। मुझे बेवजह इसमे बदनाम किया जा रहा है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment