.

.

.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ़ :कमिश्नर की रिपोर्ट पर शासन ने एसडीएम सदर को निलंबित किया,मचा हड़कंप

एसडीएम सदर प्रशांत कुमार नायक ने बंधे की सरकारी जमीन को एक व्यक्ति के नाम किया था 

आजमगढ़ : बंधे की सरकारी जमीन का फैसला सुनाकर दाखिल खारिज करवाने वाले एसडीएम सदर प्रशांत कुमार नायक को मंडलायुक्त कनक त्रिपाठी की रिपोर्ट पर शासन ने निलंबित कर दिया है। उन्हें राजस्व परिषद कार्यालय लखनऊ से संबद्ध किया गया है। शासन की सख्ती से प्रशासनिक हलके में हड़कंप मचा रहा।
शहर के एलवल में बंधे खाते की भूमि है। वर्ष 2018 में वादी भू-माफिया सोमारू ने इस जमीन पर मुकदमा किया। यह मुकदमा एसडीएम न्यायालय में चल रहा था। बीते 14 नवंबर को बाढ़ खंड के अधिशासी अभियंता ने मंडलायुक्त को प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया कि काफी दिनों से विवादित बंधे की सरकारी जमीन को एसडीएम सदर प्रशांत नायक ने सोमारू के नाम दाखिल खारिज कर दिया है। आरोप लगाया था कि करीब पौन बीघा जमीन सोमारू के नाम की गई है। शिकायत को मंडलायुक्त ने गंभीरता से लिया था। टीम गठित कर मामले की जांच कराई। लापरवाही व अनियमितता सामने आने पर रिपोर्ट शासन को भेजा गया। जिसका संज्ञान लेते हुए शासन ने उन्हें निलंबित कर दिया। जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह ने एसडीएम सदर को एक दिन पूर्व अतिरिक्त मजिस्ट्रेट का चार्ज दे दिया था।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment