.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : मनाई गई स्वतंत्रता सेनानी,पूर्व विधायक अमजद अली साहब की 23 वीं पुण्यतिथि


हिंदू मुस्लिम एकता के प्रतीक थे आजमगढ़ के पहले मुस्लिम विधायक अमजद अली साहब - अजफर गजनवी, प्रबंधक , अमजद अली इंटरमीडिएट कॉलेज, मुहम्मदपुर 

मुहम्मदपुर : आजमगढ़ : अमजद अली इंटरमीडिएट कॉलेज मुहम्मदपुर के संस्थापक स्वतंत्रता सेनानी पूर्व विधायक अमजद अली साहब की 23 वीं पुण्यतिथि समारोहपूर्वक मनाई गई । कार्यक्रम की अध्यक्षता उमेर सिद्दीकी एवं संचालन आलोक कुमार श्रीवास्तव ने किया । इस अवसर पर प्रबंधक मो अजफर गजनवी ने आए हुए अतिथियों का मोमेंटो और अंग वस्त्रम देकर सम्मानित किया । सभा को संबोधित करते हुए विद्यालय के प्रबंधक ने कहा कि आजमगढ़ के दक्षिणांचल स्थित मग्ई नदी के तट पर मोहम्मदपुर गांव में 1912 में एक नन्हे बालक का जन्म जन्म हुआ ,किसके पिता रेलवे में थे, लेकिन जवाहरलाल नेहरू को फेफना से इंदारा पहुंचाने के आरोप में इन्हें नौकरी से निकाल दिया गया । जिसका असर अमजद अली के प्रारंभिक जीवन पर साफ दिखाई देता  है। लेकिन यह अपनी प्रारंभिक शिक्षा आजमगढ़ से प्राप्त करने के बाद गोरखपुर तथा भी  बी एच यू से शिक्षा प्राप्त किए। फिर गांव की ओर लौट उन्होंने 1941 में गांव में एक मदरसे की नीव डाली, जो आज अमजद अली इंटरमीडिएट कॉलेज के नाम से मोहम्मदपुर में हजारों छात्र-छात्राओं का भविष्य उज्जवल कर रहा  हैं । वे  हिंदू मुस्लिम एकता के प्रतीक थे , जब भी कहीं  इस तरह के मतभेद की कोई बात होती तो वे आगे बढ़कर के लोगों के गमों को दूर करने का प्रयास करते थे । स्वतंत्रता के पश्चात आजमगढ़ के पहले मुस्लिम विधायक के रुप में आप ने 1962 में निजामाबाद विधानसभा से जीत दर्ज की।  हमें गर्व है की स्वर्गीय अमजद अली ने एक ऐसी शिक्षा के मंदिर की स्थापना किया है जो अनंत काल तक उनके नाम और विचारों को रोशन करेगा  ।
इस दौरान समाजसेविका हिना देसाई ने बच्चियों में आत्मरक्षा एवं समाज को एक नई दिशा देने के का कार्य करने का संदेश दिया। अमजद अली इंटर कालेज के अध्यक्ष असद ने आए हुए अतिथियों का खैर मकदम करते हुए कहा कि हमें अमजद साहब के मिशन को आगे बढ़ाना है और इस दयार में शिक्षा के ज्योति को निरंतर प्रज्वलित करते रहना है। कामरेड हरिमंदिर पांडेय ने अमजद साहब को याद करते हुए उन्हें एक सच्चा धर्मनिरपेक्ष बताया उन्होंने कहा कि जिसका उदाहरण है कि इस विद्यालय में सभी जाति व धर्म के शिक्षक और विद्यार्थी हैं । इस अवसर पर नोमान अहमद सी ए ने कहा कि बच्चों को अमजद साहब के बताए हुए रास्ते पर चलना चाहिए। ओम प्रकाश मिश्रा ने कहा कि हमें उनके बताए हुए रास्ते पर चलना ही उनके प्रति हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी । कार्यक्रम में गरीब छात्र-छात्राओं को कंबल वितरित किया गया तथा बर्ष भर जिन छात्रों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेकर के स्थान प्राप्त किया था उन्हें विद्यालय के अध्यक्ष डॉ असद ने मेडल देकर के सम्मानित किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मो आजम,वसीमउद्दीन एडवोकेट, अबू सुफियान, हिना देसाई, शेख अहमद, इल्यास लाजमी, तारिक ख्वाजा , आदिल अमजद, सफी अंसारी ,कल्बे हुसैन ,अलीसर, एजाज अहमद, जमीर अहमद ,शाहिद जमाल ,अयाज अहमद, चंद्रेश यादव ,लुकमान, शेषनाथ, मानदेय पांडेय, नूरुद्दीन, तौफीक अहमदर नेयाज अहमद, फराज अमजद,अब्दुल्लाह, सुभानी हारून आदि लोग मौजूद थे। प्रधानाचार्य ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment