.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

आजमगढ: जिले में दो स्थानो पर दुर्घटनाग्रस्त हुई स्कूल बस,दो दर्जन से अधिक बच्चे घायल



मेहनगर के करौती और अतरौलिया के तेजापुर के पास हुआ हादसा, अभिभावकों में आक्रोश

अतरौलिया में पुलिस की भूमिका रही सराहनीय एसओ ने बस में फंसे बच्चे को गैस कटर मंगा बाहर निकाला,  सीएचसी पर घायलों को पहुँचाया 

आजमगढ। जनपद के दो थाना क्षेत्रो मे सोमवार की सुबह बच्चों से भरी स्कूली बस गुर्घटना में करीब दो दर्जन से अधिक बच्चे व 04 शिक्षक घायल हो गए । घायलों को उपचार के लिए अलग अलग अस्पतालो में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के अनुसारः मेहनगर थाना क्षेत्र के कस्बे में संचालित एक पब्लिक स्कूल की बस नित्य की भांति स्कूली छात्रों को विद्यालय ले जा रही थी कि मेहनगर वाया जयनगर मार्ग पर स्थित करौती गाँव में बस अनियंत्रित होकर अपने पटरी से हटकर दाहिने पटरी में जाकर नीम की पेड़ में टकराई गई। जिससे जमीन से करीब तीन फीट ऊपर नीम के पेड़ को धराशयी कर ,जड़ में बस जा फंसी, जैसे ही बस का शीशी चकनाचूर हुआ कि भौमिक कुमार 09 वर्ष पुत्र रामप्रवेश निवासी कटाई बाहर छटक गया और घटना स्थल पर ही उसके पैर की हड्डी टूट गई। बस में सवार बच्चे फूट फूट कर रोने लगे ,बस टकराने की आवाज सुन ग्रामीण बस की तरफ दौड़ पड़े और स्कूली बच्चों को बाहर निकाला। ग्रामीणों ने एम्बुलेंस 108 व डायल 112 को सूचना दी। मौके पर से घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मेहनगर लाया गया। दूसरी तरफ जैसे ही अभिभावकों को सूचना मिली हर कोई घटना स्थल होते हुए सीएचसी अस्पताल पहुचे ,जहां प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ 0 राजेश कुमार ने घायल भौमिक कुमार पुत्र रामप्रवेश कक्षा 3, श्लोक 7 वर्ष पुत्र रोशन कुमार को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। शेष चार अन्य बच्चों को परिजन बिना चिकित्सक को दिखाए प्राइवेेट अस्पताल लेकर चले गए। रेफर दोनो बच्चों को परिजनों ने कस्बे के निजी अस्पताल ले गए ,जहाँ इलाज के दौरान श्लोक को डिस्चार्ज कर दिया। वही भौमिक के जांघ की हड्डी टूट गई थी, जिसे देखने के लिए कस्बे के निजी अस्पताल में प्रभारी निरीक्षक विनय कुमार मिश्र व भाजपा जिलामहामंत्री ध्रुव कुमार सिंह ने घायल बच्चे का हाल जाना,वही चिकित्सक ने भौमिक को हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। जहाँ परिजन उसे निजी वाहन से वाराणसी ले गए।
अतरौलिया प्रतिनिधि के अनुसारः थाना क्षेत्र के तेजापुर गांव के पास एनएच-233 पर एक बच्चों और शिक्षकों से भरी स्कूली बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। टक्कर इतना जोरदार था कि बस में सवार लगभग 16 बच्चे और चार शिक्षक घायल हो गये। स्थानीय लोगो और पुलिस की मदद से सभी घायल बच्चो को अतरौलिया 100 शैयायुक्त अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां एक बच्चे की हालत गंभीर बनी हुई है।
बतादे कि अम्बेडकर नगर जिले के आलापुर तहसील के रामनगर स्थित पंडित राम अवध बाल विद्या मंदिर के बच्चे रविवार की सुबह वाराणसी टूर पर गये थे। वाराणसी से वापस आते समय बस जैसे ही अतरौलिया थाना क्षेत्र के तेजापुर गांव के पास अलसुबह पहुंची। उसी दौरान ड्राइवर को झपकी आ गई और बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। हादसे में 16 छात्र घायल हो गए। जबकि एक छात्र हालत गंभीर बनी हुई है। बस में कुल 53 बच्चे सवार थे। घायल बच्चों को नजदीकी जिला चिकित्सालय अतरौलिया में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर एसडीएम बूढ़नपुर दिनेश कुमार मिश्र और क्षेत्राधिकारी बुढ़नपुर शीतला प्रसाद, नायब तहसीलदार धर्मेंद्र कुमार सिंह पहुंचे और घायल बच्चो का हाल अस्पताल में जाना। घायलो में
हर्ष पुत्र हरिप्रसाद, आदित्य मौर्य पुत्र प्रमोद मौर्या, अंकुर गौड़ पुत्र रामजीत गौड, हिमांशु प्रजापति पुत्र विनोद, अंकिता पुत्री विनोद, स्वाति पुत्री रामलाल चैरसिया, महक पुत्री अब्दुल कलाम, शुभम यादव पुत्र तिलोकी यादव, आशि यादव पुत्री राकेश, सौम्या पुत्री लालजी यादव, रिया यादव पुत्री विपिन यादव, कुसुम तिवारी पुत्री संत कुमार तिवारी, आलोक पुत्र अरविंद, हेमंत मिश्रा पुत्र अतुल प्रकाश मिश्रा, राजन पुत्र रामकेश और अध्यापकगण सौम्या पांडे यादव, प्रियंका यादव, श्वेता त्रिपाठी, निप्रेन्द यादव, ड्राइवर संतराम यादव घायल आदि लोग थे।
थानाध्यक्ष ने फंसे बच्चे को निकाला
अतरौलिया। घटना की सूचना पाकर मौके पर तुरंत डायल 112 पीआरवी पहुंच गयी जिसके जवान खुर्शीद अहमद ने तुरंत सभी बच्चों को निकालकर अपनी गाड़ी से नजदीकी 100 शैया संयुक्त जिला अस्पताल अतरौलिया ले गए। मौके पर प्रभारी निरीक्षक अतरौलिया हिमेन्द सिंह भी राहत और बचाव में जुट गए। मौके पर 16 बच्चे घायल हो गए है एक बच्चे आदित्य पुत्र प्रमोद उम्र 13 वर्ष का पैर सीट के नीचे फंस जाने से निकल नहीं रहा था। प्रभारी निरीक्षक हिमेन्द सिंह ने तत्काल ग्लाइडर और गैस कटर मंगा कर बच्चे को बाहर निकलवाया।
घटना के संदर्भ में जानकारी लेकर उप जिलाधिकारी बूढनपुर ने बताया कि बस चालक का कहना है कि लगातार 24 घंटे से जागने के कारण उसको झपकी आ गई। वहीँ मेहनगर की दुर्घटना के बाद विद्यालय प्रबंधन के ऊपर गंभीर न होने और स्कूल बस संचालन में नियमो की अनदेखी का आरोप लगा अभिभावकों द्वारा थाने में शिकायत भी किये जाने की जानकारी मिली है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment