.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ: डीएवी कालेज में भव्य रूप से हुआ नए मुख्य द्वार व बाउंड्री वाल का लोकार्पण

 पूर्व केन्द्रीय मंत्री अनिल शास्त्री मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम में हुए शामिल

महाविद्यालय प्रबंधक की पहल की सबने की सराहना

आजमगढ। शहर के प्रसिद्ध दयानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय (डीएवी) के मुख्य द्वार का जीर्णोद्धार एवं मैदान की बाउंड्री वाल का लोकार्पण रविवार को भव्य रूप से सम्पन्न हुआ। डीएवी पीजी कॉलेज के मुख्य द्वार एवं बाउंड्री वाल का लोकार्पण मुख्य अतिथि अनिल शास्त्री (भूतपूर्व मंत्री, भारत सरकार) एवं विशिष्ट अतिथि डॉ कन्हैया सिंह (पूर्व प्राचार्य एवं विभागाध्यक्ष हिंदी, डीएवी पीजी कॉलेज) एवं विशिष्ट अतिथि (द्वितीय) रमाशंकर यादव (भूतपूर्व कार्यालय अधीक्षक, डीएवी पीजी कॉलेज, ) के कर कमलों द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। कार्यक्रम में दयानंद एंग्लो वैदिक इंटर कॉलेज एवं दयानंद एंग्लो वैदिक स्नातकोत्तर महाविद्यालय, आजमगढ़ परिवार द्वारा आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त किया। गौरतलब है कि मैदान में बाउंड्री वाल ना होने से महाविद्यालय में पठन-पाठन के माहौल में व्यवधान उत्पन्न होता था। जिसके समाधान के लिए महाविद्यालय के प्रबंधक एडवोकेट आनंद प्रकाश श्रीवास्तव ने पहल करते हुए अपने भाइयों अरुण प्रकाश श्रीवास्तव (एडवोकेट) एवं अजय प्रकाश श्रीवास्तव (ग्रुप कैप्टन, भारतीय वायु सेना) के सहयोग से अपनी माता स्व. सुशीला श्रीवास्तव एवं पिता स्व. सूरज प्रकाश श्रीवास्तव (एडवोकेट) की स्मृति में महाविद्यालय को समर्पित किया है। इसी प्रकार महाविद्यालय का मुख्य द्वार काफी पुराना और जीर्ण शीर्ण हालत में था, जिसका चौड़ीकरण व जीर्णोद्धार करते हुए सुंदरीकरण के साथ ही दो गेट और लगवा दिए गए हैं, जिससे आवागमन में किसी भी प्रकार की कोई बाधा उत्पन्न नहीं होगी। कार्यक्रम की शुरुआत आर्य समाज की वैदिक विधि से हवन पूजन करने के बाद कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए मंच पर मुख्य अतिथि अनिल शास्त्री, विशिष्ट अतिथि डॉ कन्हैया सिंह एवं रमाशंकर यादव, आर्य विद्या सभा के अध्यक्ष शुभ नारायण गुप्त एवं आर्य विद्या सभा के मंत्री विनोद श्रीवास्तव, नगर पालिका अध्यक्ष शीला श्रीवास्तव उपस्थित रही। कार्यक्रम का उत्कृष्ट संचालन राजनीति शास्त्र विभाग की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ शिल्पा त्रिपाठी ने किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ सुचिता श्रीवास्तव ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए विद्यालय को नित नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए प्रबंध समिति को धन्यवाद ज्ञापित किया। महाविद्यालय के कार्यालय अधीक्षक शिशिर श्रीवास्तव द्वारा आए हुए अतिथियों का माल्यार्पण किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में कहा कि मैं दयानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय की धरती पर आकर गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment